आंवला - हर किसी को जरूर करना चाहिए इसका प्रयोग. जाने क्यों ? - Raambaanilaj.com

Saturday, 22 July 2017

आंवला - हर किसी को जरूर करना चाहिए इसका प्रयोग. जाने क्यों ?

वैसे हिन्दी में आंवला को आमला, आंवरा भी कहते हैं। आमतौर पर आंवला चूर्ण और आंवला का मुरब्बा बनाकर सबसे ज़्यादा लोग उपयोग करते हैं। कुछ लोग आंवला का अचार या आंवला की चटनी भी बनाकर उपयोग करते हैं।
आंवला कब्ज़, अतिसार, पीलिया, बवासीर, बदहज़मी, खांसी जैसी
बीमारियों से शरीर की रक्षा करता है। इसके अलावा यह वात, पित्त और कफ इन तीन दोषों को भी शान्त करता है। आंवला खाने के फ़ायदे अनेक है तथा इसके सेवन से आप अनगिनत बीमारियों से बचे रहेंगे।


ताज़ा आंवला, अदरक और हरा धनिया मिलाकर इसको चटनी की तरह पीस लें। इसमें नमक, काला नमक, हींग, जीरा पाउडर और कालीमिर्च पाउडर मिलाकर खाने से डकारें शांत और हाजमा ठीक रहता है

बुढ़ापा दूर करने और ख़ुद को जवां बनाएं रखने के लिए 100 ग्राम आंवले का पाउडर, 100 ग्राम काले तिल का पाउडर, 50 ग्राम शहद और 100 ग्राम देसी घी को मिलाकर 1 चम्मच प्रतिदिन सुबह एक महीने तक सेवन करने से ज़बरदस्त असर दिखाई देता है।



आंवला के तेल से बालों में मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। इससे रूसी भी हट जाती है। इतना ही नहीं आंवला के तेल से बालों को मसाज करने से बालों का विकास भी काफी तेजी से होने लगता हैं।

भूरे होने से बालों को रोकता है आंवला में विटामिन सी और एंटीऑसिडेंट होते हैं जिससे बालों के भूरे होने का खतरा कम हो जाता हैं।

पीलिया रोग से निजात पाने के लिए दस दिन तक एक गिलास गन्ने के रस में तीन बड़े चम्मच हरे आंवले का रस और तीन चम्मच शहद मिला कर दिन में दो बार पीने से पीलिया रोग चला जाएगा।

दो मुंहे बालों को रोकता हैं आंवले के हेयर पैक को रोजाना इस्तेमाल करने से और आंवला के तेल से मसाज करने से दो मुंहे बालों की समस्या से आसानी से निजात पाया जा सकता हैं। यह दो मुंहे बालों पर रामबाण की तरह काम करता हैं।

प्रजनन सम्बन्धी समश्याओं में लाभकारी : आंवला प्रजनन के लिए बहुत ही उत्तम हैं महिलाओ और पुरुषो के लिए आंवला के सेवन से पुरुषो में शुक्राणु की क्रियाशीलता और मात्रा बढती हैं और महिलाओं में अंडाणु अच्छे और स्वस्थ बनते हैं, माहवारी नियमित हो जाती हैं.

हड्डियों के लिए उत्तम : आंवला के सेवन से हड्डियाँ मजबूत और ताकत मिलती हैं. आंवला के सेवन से ओस्ट्रोपोरोसिस और आर्थराइटिस एवं जोरो के दर्द में भी आराम दिलाती हैं. 

तनाव से छुट्टी : आमला के सेवन से तनाव में आराम मिलता हैं अच्छी नींद आती हैं.आवला के तेल को बालों के जड़ों में लगाया जाये तो कलर ब्लाइंडनेस से छुटकारा मिलता हैं.सर को ठडा रखता हैं.और राहत देता हैं.

loading...
संक्रमण से बचाव : आंवला में बक्टेरिया और फंगस से लड़ने की क्षमता होती हैं और ये बाहरी बीमारियों से भी हमें बचाती हैं. आंवला शरीर को पुष्ट कर उसे रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढाती हैं, और टोक्सिन को यानी विषाक्त प्रदार्थ को हमारे शरीर से निकलती देती हैं. आंवला अल्सर,अल्सरेटिव,कोलेटीस,पेट में संक्रमण ,जैसे विकार को खत्म करता हैं. आंवला का रस या पाउडर प्रतिदिन लेने से बहुत फायदा होता हैं.
मूत्र विकारो से छुटकारा दिलाता हैं : मुत्र विकारों में आंवला का चूर्ण फायदा करता हैं. आंवला के छाल और इसकी पत्तीयों को पानी में उबाल कर छान ले और उसका सेवन करे बहुत फायदा होता हैं. किडनी में होने वाले संक्रमण को भी खत्म करता हैं. किडनी में होने वाले पत्थर से भी छुटकारा दिलाता हैं. हाई ब्लड प्रेशर का सफल इला
वजन कम करने में : आंवला के रस का सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती हैं. आमला हमारे मेटाबोलिज्म को तेज कर वजन कम करने में मदद करती हैं. आंवला के सेवन से भूख कम लगती हैं और काफी देर तक पेट भरा हुआ रहता हैं.
यक़ीनन इतने गुणों को जानने के बाद आप भी यही कहेंगे कि आंवला अमृत के गुणों से भरा है। जिसके नियमित सेवन से आप स्वास्थ्य और रोग मुक्त रहेंगें।

No comments:

Post a Comment

Thanks for Comment.

Popular Posts

loading...