Turmeric With Milk-हल्दी दूध के फायदे नहीं जानते होंगे आप - Raambaanilaj.com

Sunday, 23 July 2017

Turmeric With Milk-हल्दी दूध के फायदे नहीं जानते होंगे आप

हल्दी दूध के फायदे

वजन घटाने में फायदेमंद गर्म दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा चर्बी घटती है. इसमें मौजूद कैल्शियम और मिनिरल्स सेहतमंद तरीके से वजन घटाने में सहायक हैं।

अच्छी नींद के लिए हल्दी में अमीनो एसिड है इसलिए दूध के साथ इसके सेवन के बाद नींद गहरी आती है.अनिद्रा की दिक्कत हो तो सोने से आधे घंटे पहले गर्म दूध के साथ हल्दी का सेवन करें।


हल्दी वाले दूध को गठिया के निदान और रियूमेटॉइड गठिया के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ो और पेशियों को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।

आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है। यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करता है। पेट से जुड़ी समस्याओं में आराम के लिए इसका सेवन फायदेमंद है।

एक शोध के अनुसार, हल्दी में मौजूद तत्व कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकते हैं और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करते हैं।

हल्दी में करक्यूमिन नाम की सामग्री होती हैं जो एंटी इंफ्लेमेट्री गुण का कारण होता हैं। हल्दी वाला दूध पीने से आपके जोड़ो की सूजन कम हो जाती हैं और मांसपेशियों की ऐंठन को भी आराम मिलता हैं

हल्दी एंटीस्पैसमोडिक गुण के लिए जाना जाता हैं क्योंकि ये मांसपेशियों की ऐंठन को भी खत्म कर देता हैं। अगर आप मासिक धर्म के दो हफ्ते पहले से गरम हल्दी के दूध का सेवन करेंगे तो आपको मासिक धर्म में कम ऐंठन होती हैं।

चमकदार त्वचा पाने के लिये हल्दी वाला दूध पियें. मुलायम और चमकती त्वचा के लिये आप ठन्डे दूध में हल्दी मिलाकर नहा सकते हैं.

अगर आपके शरीर में लाल-लाल चकते हो गए हों, तो रूइ के टुकड़े को हल्दी वाले दूध में भिंगा लें, फिर उसे चकते वाले हिस्से पर 15-20 मिनट तक लगाएँ, इससे चकते कम होंगें.

loading...
अस्थमा की बीमारी से ग्रसित लोगों के लिए आधा चम्मच शहद में एक चौथाई चम्मच हल्दी मिलाकर खाने से लाभ मिलता है।

खून को साफ और माहवारी से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करने वाली हल्दी में उड़नशील तेल, प्रोटीन, खनिज पदार्थ, कारबोहाईड्रेट आदि के कुर्कुमिन नामक एक महत्वपूर्ण रसायन के अलावा विटामिन भी पाए जाता है। यह शरीर में वसा वाले ऊतकों के निर्माण को रोकता है।

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली हल्दी जोड़ों के दर्द में भी काम आती है। जड़ों के दर्द में हल्दी चूर्ण का पेस्ट बनाकर लेप करना चाहिए, साथ ही भीतरी चोट के दर्द से निजात पाने के लिए गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीना फायदेमंद है।




No comments:

Post a Comment

Thanks for Comment.

Popular Posts

loading...