21 मई को राहु की बदलेगी चाल, जानिए किस राशि के जातकों को कोरोना होने की आशंका सबसे अधिक

21 मई को राहु का रहा है गोचर, जानिए किस राशि के लिए कोरोना होने की आशंका सबसे अधिक Image Source : INSTRAGRAM/NUMEROCURE9

आज ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि और गुरुवार का दिन है। चतुर्दशी तिथि आज रात 9 बजकर 37 मिनट तक रहेगी। उसके बाद अमावस्या तिथि शुरू हो जायेगी। चतुर्दशी तिथि  आज पूरा दिन पार करके कल की सुबह 6 बजकर 26 मिनट तक शोभन योग रहेगा। शुभ कार्यों और यात्रा पर जाने के लिए यह योग उत्तम माना गया है। इस योग में शुरू की गई यात्रा मंगलमय एवं सुखद रहती है।  साथ ही आज भरणी नक्षत्र है। भरणी नक्षत्र आज देर रात 1 बजकर 4 मिनट तक रहेगा। सत्ताईस नक्षत्रों में भरणी नक्षत्र का द्वितीय यानि दूसरा स्थान है। भरणी का अर्थ होता है- भरण-पोषण करना। भरणी नक्षत्र के चारों चरण मेष राशि में आते हैं। लिहाजा इसकी राशि मेष है। इसका प्रतीक चिन्ह त्रिकोण आकृति को माना जाता है। अगर भरणी नक्षत्र के प्रबल प्रभाव में आने वालों की बात की जाये, तो ये सच बोलने वाले, धार्मिक कार्यों के प्रति रूचि रखने वाले, उत्तम विचारों के धनी, साहसी, प्रेरणादायक, रचनात्मक क्षेत्रों में सफल, चित्रकारी और फोटोग्राफी में अभिरुचि रखने वाले होते हैं। साथ ही ये लोग कठिन से कठिन कार्य करने से भी नहीं घबराते हैं और अपनी इन्हीं विशेषताओं के कारण भरणी नक्षत्र के जातक अपने जीवन में कई बार विफल होने के बाद भी हार नहीं मानते और अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रयास करते रहते हैं और अंतत: अपना लक्ष्य प्राप्त करने में सफल भी होते हैं।

आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार 22 अप्रैल की सुबह 8 बज कर 51 मिनट पर स्पष्ट राहु आर्द्रा अक्षत्र को छोड़ कर मृगशिरा मे आ गए थे, इसी क्रम मे कल दोपहर बाद 3 बजकर 25 मिनट पर मध्यम राहु भी आर्द्रा अक्षत्र को छोड़ कर मृगशिरा नक्षत्र मे आ गए हैं। कोरोना पर इसका व्यापक प्रभाव पड़ेगा।

आर्द्रा नक्षत्र का स्वामी स्वयं राहु है, आर्द्रा नक्षत्र का बिम्बांकन  भगवान शंकर के नील कंठ से किया जाता है। एक गला जो विष से भर गया है, और कोरोना का स्वरूप भी गले की विषाक्तता से ही पूरा होता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। अब राहू महाशय, मंगल के नक्षत्र में जा रहे हैं। मंगल के आगे अमूमन राहु शांत ही रहता है।

ज्योतिष की एक विधा के अनुसार राहू अगर हाथी है तो मंगल महावत है। लिहाजा अपनी उच्च राशि मे होते हुए भी राहू, मंगल के नक्षत्र मे गोचर करते हुए कम हानिकारक हो जाएगा। इस महामारी का कारक राहू ही है, शनि ओर केतु उसके सहायक हैं और गुरु इस सिस्टम मे कैटेलिस्ट यानी उत्प्रेरक की भूमिका मे है। राहू के नक्षत्र परिवर्तन के साथ ही जीवन नई पटरी पर चल पड़ेगा, कोरोना की संख्या मे बढ़ोत्तरी भले ही दिखे लेकिन इसकी बारंबारता मे निश्चित रूप से कमी आएगी। इस पर प्रभावी रोकथाम के उपाय निकलेंगे।

आपको ये भी जान लेना चाहिए कि राहू के इस मूवमेंट से किसको फायदा और किसको बहुत फायदा होगा। किसको किस चीज का रखना है ध्यान, और क्या उपाय करने से आपको होगा फायदा । ये उपाय राशिवार हैं और दूसरी राशि के लोग इन उपायों को ट्राई न करें। या तो अपनी राशि के हिसाब से उपाय करें या अगर राशि न मालूम हो तो अपनी नाम राशि का इस्तेमाल करके लाभान्वित हो सकते हैं।

मेष राशि 

इस घटना से आपकी ख्याति यानि कि यश पर पोसीटिव असर पड़ेगा। भाई बहनों से भी रिश्ते मजबूत होंगे। पाज़िटिव रिजल्ट एनश्योर करने के लिए  हाथी का खिलोना अपने पास रखें। कोरोना की संभावना 57 %।

वृष राशि 
इस घटना का असर आपके दूसरे खाने पर पड़ेगा। अगर आप स्त्री हैं तो आपके ससुराल से संबंधित किसी विवाद मे आपको विजय प्राप्त होगी, और अगर आप पुरुष हैं तो आपके धन का मैनिज्मन्ट सही ढंग से हो जाएगा। सटीक परिणामों के लिए चांदी की एक गोली अपने पास रखिए। कोरोना की संभावना 23%।

जून में पड़ेगा साल का दूसरा चंद्र ग्रहण, जानिए इसका क्या होगा असर

मिथुन राशि 
ये घटना आपके लग्न मे घटित होगी, इसके शुभ प्रभाव से अगर आपको कोरोना के इन्फेक्शन ने पकड़ भी लिया तो वो खुद ही खत्म हो जाएगा। आपको सुरक्षा मिलेगी। इसका बुरा असर ये होगा कि रात मे सोते समय बेड रूम मे कोई न कोई झगड़ा होता रहेगा। शुभ फल की प्राप्ति के लिए- बुधवार को नारियल पानी मे बहायें। कोरोना की संभावना 37%।

कर्क राशि 
ये घटना आपके लिए बड़े घर का रास्ता खोल सकती है।आपके आस पास ओपोसिट सेक्स तो बहुत होगा लेकिन धन का विशेष अभाव हो जाएगा।उधार मांगने वाले परेशान करेंगे। बेहतर होगा कि इस बीच रसोई मे ही बैठ कर भोजन करें। कोरोना की संभावना 86%।

राशिफल 21 मई: कुंभ राशि के जातकों को करियर में मिलेगी तरक्की, वहीं मकर राशि के लोग रहें सतर्क

सिंह राशि 
आपकी आमदनी मे आ रही समस्याए कम होंगी। कोई इच्छा पूरी होगी लेकिन इस तरह कि आप उसका पूरा लुत्फ न उठाया पाएं। अच्छे फल पाने के लिए 23 सितंबर तक मुफ़्त मे मिले नीले या काले कपड़े न पहनें। कोरोना की संभावना 42%।

कन्या राशि 
इस डेवलपमेंट से आपका मान सम्मान बढ़ेगा। आपके पिता का स्वास्थ्य ठीक होगा और आपके करियर में लाभ होगा। कोरोना आपसे दूर भागेगा और आपकी शक्ल देख कर खुद क्वारंटीन मे चला जाएगा, लेकिन इस सबकी शर्त है कि- सर पर चोटी रखें, नंगे सर पर सूरज की रोशनी न पड़े और रात को दूध न पियें। कोरोना की संभावना 16%।

तुला राशि

यह घटना आपके भाग्य स्थान पर घटित हो रही है। आपकी किस्मत आज से बुलंद होगी। आपको ढेर सारा प्यार मिलेगा। ससुराल से गिफ्ट मिलेगी लेकिन बिजली का कोई समान ससुराल से न लें। शुभ फलों के लिए कुत्ता पालना और काले नीले कपड़े न पहनना फायदे मंद रहेगा। कोरोना की संभावना 32%।

वृश्चिक राशि 
कान्स्टपैशन और पाइल्स से छुटकारा मिलेगा। प्रगति भी होगी और कोई भरोसेमंद व्यक्ति धोखा देने की कोशिश भी करेगा, कोई नुकसान नहीं होगा।  ऐसी नौबत आ सकती है कि आप अच्छे खानदान से होते हुए भी नास्तिकों जैसे काम करें। अच्छे नतीजों के लिए मंदिर मे बादाम चढ़ाएं। कोरोना की संभावना 29%।

धनु राशि 
ये परिवर्तन आपके सातवें खाने मे हो रहा है। दैनिक रोजगार पर लगी लगाम हटेगी और जीवनसाथी के साथ संबंध आपके संबंध अच्छे होंगे। आपकी विनम्रता बढ़ेगी, आप धर्म की रक्षा करेंगे और धर्म आपकी रक्षा करेगा। बेहतर नतीजे पाने के लिए कभी कभी नारियल जल मे प्रवाहित करें और 23 सितंबर तक कुत्ता न पालें। कोरोना की संभावना 16%।

मकर राशि 
राहू का यह गोचर आपकी जन्म पत्रिका के छठे भाव मे है। अगर आपकी नाभि के पास तिल है या आपकी कुंडली मंगल नीच का है तो आपको अपनी सुरक्षा के लिए सरस्वती जी की फोटो के आगे 6 दिन तक रोज नीले फूल चढ़ाने चाहिए और पूरी तरह काले कुत्ते को रोटी देनी चाहिए। कोरोना की संभावना 32%।

कुंभ राशि 
राहू का ये गोचर आपके पंचम भाव मे हो रहा है. इसका संबंध आपकी संतान से है। इस समय आपको अपनी संतान की सुरक्षा, उसकी इम्यूनिटी बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए। आपका विवेक बेहतर होगा। निर्णय लेने की क्षमता बेहतर होगी । 23 सितंबर तक नीलम न पहनना ही अच्छा रहेगा। सफेद गाय को प्रणाम करें। कोरोना की संभावना 43%।

मीन राशि
इस परिवर्तन से स्थिति बेहतर होगी लेकिन 23 सितंबर तक घर की छत रिपेयर कराना अवॉइड करें। अगर मजबूरी मे कराना पड़ जाए तो पुरानी छत के मलवे से कुछ नई छत के मसाले मे मिला लें। सूखा धनिया जल मे प्रवाहित कने से फायदा होगा। कोरोना की संभावना 42%।          



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/2XjSOTf
via IFTTT

Post a comment

0 Comments