व्यवस्थित घर के लिए जरूरी है सलीका, ऐसे में वक्त है अब सफाई की रणनीति बदल कर इसकी आदत डालने का

घर को व्यवस्थित और साफ-सुथरा रखना उतना भी आसान नहीं, जितना लगता है। अगर चंद दिनों में फिर बिखर जाए, तो क्या फायदा। सफाई की मुहिम नहीं, आदत डालना ही असली सफलता है। व्यवस्थित घर के लिए सलीका जरूरी है। ये सब रोज का अभ्यास होता है, जो करना जरूरी है। अब करना कैसे है इसके लिए सफाई की विशेषज्ञ नागीसा तातसुमी से जानिए-

पहला कदम- ऐसा हिस्सा चुनें जहां कोई भी सामान नहीं रखेंगे, जैसे-

  • किचन का काउंटर टॉप
  • डाइनिंग टेबल
  • फ्रिज और अलमारी का ऊपरी हिस्सा
  • स्टडी टेबल

डायनिंग टेबल से शुरू करें। ये जगह भोजन के लिए है न कि सामान रखने के लिए। इसलिए निश्चित करें कि यहां कुछ भी जमा नहीं करेंगे। अक्सर डायनिंग टेबल पर अख़बार, फूलदान, दवाइयां, खिलौने आदि पड़े रहते हैं, इसलिए सबसे पहले इस पर रखी चीजों को सही जगह पर रखें। फ्रिज का ऊपरी हिस्सा सामान रखने के लिए नहीं है, इसलिए यहां भी कुछ भी रखने की आदत बदलें। जब चीजों को जगह पर रखने की आदत पड़ जाएगी तो उन्हें कहीं और रखने का ख्याल नहीं आएगा।

ऐसी जगहें, जहां अनावश्यक सामान नहीं सहेजा जाएगा

यहां दराज से शुरुआत कर सकते हैं। अलमारी की दराजें, किचन की दराज़ों जैसी कोई भी एक दराज़ चुन सकते हैं जो खाली हो। इसमें कुछ भी मत रखिए, ऐसा सिर्फ़ आदत विकसित करने के लिए करना है। अगर कभी कोई सामान बाहर रखा है और उसे इस खाली दराज में रखने का ख़्याल आ रहा है तो ऐसा करने से पहले अपने निश्चय को याद कर लीजिए।

ऐसी जगह से शुरुआत करें जो जल्दी और आसानी से साफ हो सके

सफाई का एक नियम है कि पहले वो जगह चुनी जाए, जो कम समय में आसानी से साफ हो सके। बड़ी और अधिक अव्यवस्थित जगह तनाव बढ़ाती है, इसलिए छोटी और फटाफट साफ होने वाली जगह का चुनाव करें, जैसे छोटी दराज़ें, छोटी अलमारी आदि। जब ये अभ्यास आदतों में शामिल हो जाए, तो जगह का विस्तार कर सकते हैं।

ये रणनीति क्यों कारगर है

किसी भी आदत को जल्दी बदलना मुश्किल होता है। यह बदलाव लाने का एक बेहतर तरीका है। जब आप ख़ुद से कहेंगे कि हां, अब आप इस बदलाव के लिए तैयार हैं तो आप ख़ुद देखेंगे कि आपके पास कितना ज़रूरी और व्यवस्थित सामान होगा, बजाय अनावश्यक सामान के। यह रणनीति उस कठिनाई को दूर करने में मदद करती है, जिसके बारे में हमें लगता है कि बड़ा कार्य आसानी से नहीं हो सकेगा। इसकी मदद से हम कार्यों को छोटे-छोटे भागों में बांट सकते हैं। हमारी ओर से किया गया ये अभ्यास भविष्य में हमारे लिए ही मददगार साबित होगा। इससे सफाई का तनाव भी कम होगा और चीज़ें तयशुदा जगह पर संभली हुई रहेंगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Now is the time to change the cleaning strategy to get used to it, hoe to home cleaniness, home management


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2WwGJLa
via IFTTT

Post a comment

0 Comments