आज भगवान शिव की पूजा के लिए बन रहा है विशेष संयोग, जरूर करें ये खास उपाय

भगवान शिव Image Source : INTREAGRAM/SKANDASASTI

आज ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि और सोमवार का दिन है | आज ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की तृतीया को रम्भा तृतीया का व्रत करने का विधान है | रम्भा तृतीया को रम्भा तीज के नाम से भी जाना जाता है | दरअसल आज का दिन अप्सरा रम्भा को विशेष रूप से समर्पित है। आज पूरा दिन पार करके कल की सुबह 7 बजकर 2 मिनट तक आर्द्रा नक्षत्र रहेगा |  इसका अर्थ है- नमी | आर्द्रा नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह भी आंसू की बूंद को ही माना जाता है | भगवान शिव के रुद्र रूप को आर्द्रा नक्षत्र का अधिपति देवता माना जाता है | आर्द्रा नक्षत्र में जन्मे लोग बड़े ही कर्तव्यनिष्ठ, मेहनत करने वाले, सौंपे गए काम को पूरी ज़िम्मेदारी से निभाने वाले और जिज्ञासु होते हैं | ये लोग जन्म से ही जीनियस होते हैं | आर्द्रा नक्षत्र के स्वामी राहु हैं और इसका पेड़ शीशम है | जिन लोगों का जन्म आर्द्रा नक्षत्र में हुआ हो उन लोगों को आज के दिन शीशम के पेड़ को नमस्कार करना चाहिए और उसे कभी काटना नहीं चाहिए ।  इसके अलावा आज शूल योग है जो कि कल सुबह 5 बजकर 4 मिनट तक रहेगा | इस योग में कोई भी नया कार्य शुरु करने से बचें | 

आज के दिन आर्द्रा नक्षत्र और सोमवार यानि आर्द्रा नक्षत्र के अधिपति भगवान शिव के खास संयोग में आप कौन-से खास उपाय करके फायदा उठा सकते हैं और अपने कामों को सफल बना सकते है। इस बारे में जानें आचार्य इंदु प्रकाश से।

  • अगर आपके जीवन में भौतिक सुख-साधनों की कमी हो गई है तो उनकी बढ़ोतरी के लिये आज के दिन आपको हाथ-मुंह धोकर, नीले रंग के कपड़े पहनकर राहु के स्तोत्र का पाठ करना चाहिए | आज के दिन ये उपाय करने से आपके जीवन में निश्चित तौर पर भौतिक सुख-साधनों में बढ़ोतरी होगी | 
  • अगर आप किसी तरह के मानसिक तनाव से जूझ रहे हैं, जिसके चलते आप अपने काम ठीक ढंग से नहीं कर पा रहे हैं तो आज के दिन आपको शिवलिंग पर जल मे थोड़ा दूध मिला कर अर्पित करें । आज के दिन ये उपाय करने से आपका मानसिक तनाव कम होगा और आपके काम ठीक ढंग से पूरे होंगे | 
  • अपने अन्दर पॉजिटिव ऊर्जा की बढ़ोतरी के लिये आज के दिन सुबह के समय भगवान शिव की मूर्ति या तस्वीर के आगे आसन बिछाकर बैठ जायें | मूर्ति स्थापना और आसन बिछाते समय इस बात का ध्यान रखें कि आसन पर बैठते समय आपका मुंह पूर्व दिशा की तरफ होना चाहिए और भगवान की प्रतिमा ठीक आपके सामने होनी चाहिए | इस तरह सब अच्छे से व्यवस्थित होने के बाद केवल "ऊँ" शब्द का तेज आवाज़ में गहरी सांस लेकर 11 बार उच्चारण करें | आज के दिन ये उपाय करने से आपके अन्दर पॉजिटिव ऊर्जा की बढ़ोतरी होगी | 

देवी रम्भा देंगी अच्छे वर का वरदान, बस करें इस मंत्र का जाप

  • अगर आप अपनी पारिवारिक खुशियों को बनाये रखना चाहते हैं तो आज के दिन आपको आज के दिन आपको शीशम के पेड़ का ध्यान करना चाहिए और दो मिनट के लिये हाथ जोड़कर पेड़ को नमस्कार करना चाहिए |  आज के दिन ऐसा करने से आपकी पारिवारिक खुशियां बनी रहेगी | 
  • अगर आपके दाम्पत्य संबंधों पर किसी की बुरी नजर है और आपके दाम्पत्य जीवन से खुशियाँ कहीं गायब हो गयी है, तो उससे छुटकारा पाने के लिये आज के दिन आपको राहु के इस मंत्र का 5 बार जप करना चाहिए | मंत्र इस प्रकार है-

'ऊँ भ्रां भ्रीं भ्रौं स: राहवे नम:'

25 मई राशिफल: मीन राशि वालों को होगा अचानक धनलाभ, जानिए बाकी राशियों का हाल

  • आज के दिन ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों पर किसी की बुरी नजर नहीं लगेगी | साथ ही आपके दाम्पत्य जीवन में खुशियां ही खुशियां आयेंगी | 
  • अगर आप अपनी याददाश्त बढ़ाना चाहते हैं तो आज के दिन मां सरस्वती को दूध चावल की खीर बनाकर, उसमें केसर डालकर भोग लगाएं | साथ ही घी का एक दीपक भी जलायें और इस मंत्र का 108 बार जप करें | मंत्र इस प्रकार है- 'ऊँ ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नम:' ।आज के दिन ऐसा करने से आपकी याददाश्त तेज होगी |
  • अगर आप अपने जीवनसाथी के बिजनेस को ऊँचाईयों पर ले जाना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको राहु स्तुति का पाठ करना चाहिए | राहु स्तुति इस प्रकार है- 

अर्धकायं महावीर्यं चन्द्रादित्य विमर्दनम् ।

सिहिंका गर्भ सम्भूतं तं राहुः प्रणमाम्यहम ।।
आज के दिन ऐसा करने से आपके जीवनसाथी का बिजनेस तेज गति से आगे बढ़ेगा | 

  • अगर आप किसी खेल के क्षेत्र में विशेष सफलता पाना चाहते हैं तो आज के दिन आपको हाथी की तस्वीर देखकर उसे नमस्कार करना चाहिए | आज के दिन ऐसा करने से आपको मन चाहे क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी | 
  • आपको या आपके परिवार के किसी भी सदस्य को कोई पुरानी बीमारी है और आप उससे जल्द से जल्द छुटकारा पाना चाहते हैं, तो आज शाम के समय घर में किसी एकांत जगह पर आसन बिछाकर बैठ जायें और महामृत्युंजय मंत्र का 11 बार जप करें | मंत्र है-        

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्।

उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥

मंत्र जाप करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आपके सामने कोई न आए और जाप के बाद सबसे पहले भगवान शिव के दर्शन करने चाहिए | आज के दिन ऐसा करने से आपको या आपके परिवार के सदस्य को किसी पुरानी स्वास्थ्य संबंधी समस्या से छुटकारा मिलेगा | 

  • अगर आप अपनी पढ़ाई-लिखाई की क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको देवी सरस्वती की उपासना करनी चाहिए और उन्हें पुष्पांजलि अर्पित करनी चाहिए | .आज के दिन ऐसा करने से आपकी पढ़ाई-लिखाई की क्षमता बढ़ेगी, जिससे आप बेहतर प्रदर्शन कर पायेंगे |  


from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/2A5PZx7
via IFTTT

Post a comment

0 Comments