इस बीमारी की वजह से चेहरे पर पड़ते हैं गहरे भूरे धब्बे, इन्हें गायब करने के लिए ट्राई कीजिए ये Tips


चेहरे पर पड़े गहरे भूरे धब्बें को इन घरेलू उपायों से  करें दर Image Source : INSTRAGRAM/RE.SEVENHACHI/

जब हम बिना किसी सनस्क्रीन के या थोड़े अधिक तापमान या धूप में जाते हैं तो हमारी त्वचा धूप से झुलस जाती है। नतीजतन हमारा मस्तिष्क मेलेनिन का उत्पादन करने के लिए मेलेनिन ग्रंथियों को निर्देशित करता है। जो असामान्य रूप से उत्पन्न होता है। सूरज की यूवी किरणें, हमारे दैनिक उपयोग किए जाने वाले गैजेट (स्मार्टफोन, लैपटॉप, कंप्यूटर, टीवी) की यूवी भी उम्र बढ़ने के साथ मेलेनिन के असामान्य उत्पादन का कारण बनती हैं। जिसके कारण त्वचा पर गहरे भूरे रंग के धब्बे पैदा हो जाते हैं। इसी को मेलाज्मा कहते है। जानिए इसके होने के कारण और इससे घरेलू उपायों के दावार कैसे पाया जा सकता है निजात। 

मेलाज्मा  होने का कारण

मेलेनिन एक प्रकार का हार्मोन होता है जोकि हमारी त्वचा के रंग का पता लगाता है। अगर किसी कारण मेलेनिन का उत्पादन असामान्य रूप से बढ़ जाना या थोड़ा गड़बड़ हो जाता हैं तो  हमारी स्किन के ऊपरी परत पर काले धब्बे पड़ जाते हैं जिन्हें पिगमेंटेशन कहते हैं।
सूखी, परतदार स्किन
ट्राई स्किन में भी अधिक पिगमेंटेशन होता है। जिसके कारण हमारी स्किन काफी और बेजान नजर आती है। यह भी एक तरह का पिगमेंटेशन है। सही फेसवॉश / क्लीन्ज़र और मॉइस्चराइज़र का इस्तेमाल न करने के कारण भी पिगमेंटेशन तेजी से बढ़ जाता है और इसी पिगमेंटेशन को मेलाज्मा के नाम से जाना जाता है।  इसलिए आपको एक बहुत अच्छे क्लीन्ज़र और एक अच्छे मॉइस्चराइज़र का उपयोग करना होगा।
https://myhealthdesire.com/shilajit-benefit/
मेलाज्मा
मेलाज्मा
धूप 
हम सभी जानते हैं कि यूवी पराबैंगनी किरणें हमारी त्वचा के लिए कितनी हानिकारक हैं। घर के बाहर बिना सनस्क्रीन के इस्तेमाल से स्किन में  पिगमेंटेशन हो जाता है। इसलिए जब भी घर से बाहर निकले तो सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। बहुत से लोग विभिन्न प्रकार के एंटी-एजिंग क्रीम या सीरम का उपयोग करते हैं लेकिन दिन के दौरान किसी भी सनस्क्रीन का उपयोग नहीं करते हैं। यह सभी की सबसे बड़ी गलती है। आपको इसका विपरीत परिणाम मिलेगा।
दवाओं के कारण
कई बार इस बीमारी का कारण आपकी दवाएं भी हो सकती हैं। इससे बालों का झड़ना, बालों का टूटना, दांतों का टूटना, ब्रोंकाइटिस, पिगमेंटेशन भी शामिल है।
अनुवांशिक
मेलाज्मा अनुवांशिक भी होते हैं जो व्यक्ति को अपने मातता-पिता, दादा-दादी आदि से मिल सकते हैं।
करीना कपूर के इस बेहतरीन होममेड फेस मास्क से पाएं ग्लोइंग और सॉफ्ट स्किन
हार्मोन
जैसा कि हमारे शरीर में विभिन्न हार्मोन उत्पन्न होते हैं और समय के साथ इनका पैटर्न बदलता रहता है। हार्मोन मेलेनिन में असामान्य वृद्धि या कमी त्वचा की मेलाज्मा का कारण बनती है। कई बार गर्भावस्था के दौरान विभिन्न आंतरिक हार्मोनल परिवर्तनों के कारण इसकी समस्या हो जाती है।
नींबू
नींबू

मेलाज्मा को इन घरेलू उपचार से करें दूर

नींबू
नींबू की प्रकृति अम्लीय होती है जिससे यह स्किन की बाहरी परस को बदलने में मदद करती हैं। इसके लिए थोड़ा सा नींबू रूई में लेकर प्रभावित जगह पर लगाएं। 2-3 मिनट लगा रहने के बाद साफ पानी से धो लें।
Pimple Home Remedies: मुंहासों से घबराने की जरूरत नहीं, ये टिप्स देंगे चांद सा बेदाग चेहरा
एप्पल विनेगर
एप्पल विनेगर
एप्पल विनेगर
इसमें एसीटिक एसिड पाया जाता है जो एक ब्लीच की तरह काम करता है। इसका इस्तेमाल करके आप चेहरे के दाग-धब्बों को आसानी से हटा सकते हैं। इसके लिए पानी और एपप्ल विनेगर को बराबर मात्रा में लेकर मेजाल्मा में लगाएं। सुख जाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें।
हल्दी
हल्दी
हल्दी
हल्दी में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। इससे मेजाल्मा के साथ-साथ ग्लोइंग स्किन पा सकते हैं। इसके लिए के बाउल में बेसन, दूध और हल्दी अच्छी तरह से मिक्स कर लें। इसके बाद इसे चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लें। कम से कम 20 मिनट लगा रहने के बाद साफ पानी से धो लें।
प्याज के रस का करें यूं इस्तेमाल और पाएं रूसी, झड़ते बालों से हमेशा के लिए छुटकारा
एलोवेरा
एलोवेरा
एलोवेरा जेल
ऐलोवेरा जेल में पालीसैकराइड पाया जाता है जो मेलाज्मा के दाग को हटाने के साथ डेड स्किन को निकालने मेम मदद करता है। इसके लिए एलोवेरा जेल को चेहरे पर अच्छी लगाएं और कम से कम 10 मिनट लगा रहने के बाद गुनगुने पानी से धो लें। 


from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/2LZsFDQ
via IFTTT

Post a comment

0 Comments