मुंबई: कोरोना के चलते 86 साल में पहली बार लाल बाग के राजा का पंडाल नहीं सजेगा, 11 दिन लगेंगे प्लाज्मा डोनेशन कैंप

कोरोना के कारण 75 साल में पहली बार नहीं हो पाएंगे लालबागचा राजा के भव्य दर्शन Image Source : TWITTER/ANI

कोरोना वायरस महामारी के कारण इस साल मुंबई के लालाबगाचा राजा महोत्सव आयोजित न करने का फैसला किया गया है। इसके बजाय प्लाज्मा डोनेशन कैम्प लगाए जाएंगे। 86  सालों में पहली बार ऐसा हो रहा है जब लालबाग के राजा गणेशजी की प्रतिमा की स्थापना नही की जाएगी। 

लालबागचा राजा का गणेश पूजन विश्व प्रसिद्ध है। जहां पर भक्त 24 घंटे दर्शन कर सकते हैं है। इस खास उत्सव में आम आदमी से लेकर बॉलीवुड स्टार भी  बप्पा  के दर्शन करने आते हैं। इसमें अमिताभ बच्चन

लाल बागचा राजा महोत्सव का महत्व

मुंबई में गणेशोत्सव के दौरान सबसे प्रसिद्ध और मनोकामना पूर्ति के लिए मशहूर लालबागचा राजा सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल की स्थापना 1934 में हुई थी। यह पंडाल मुंबई के लालबाग, परेल इलाके लगाया जाता है।

लाल बागचा सिर्फ भक्तों के दर्शन और मनोकामना पूर्ति का पुण्य काम नहीं करता। हर साल पंडाल की थीम जनकल्याणकारी काम पर होती है। लाल बाग के राजा कभी सिपाही बन जाते हैं तो कभी डाक्टर। कभी उनकी मूर्ति रेलवे के टीटी की होती है तो कभी  सैनिक की।

 



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/31JUyZR
via IFTTT

Post a comment

0 Comments