आज मंगल कर रहा है मीन राशि में प्रवेश, जानिए आपकी राशि पर क्या पड़ेगा प्रभाव

मंगल का गोचर Image Source : TWITTER/BETTYCJUNG

आज रात 8 बजकर 15 मिनट पर मंगल मीन राशि में प्रवेश करेंगे और 16 अगस्त की शाम 6 बजकर 28 मिनट तक यहीं पर गोचर करते रहेंगे। तो मंगल के मीन राशि में इस प्रवेश से विभिन्न राशि वाले लोगों पर क्या प्रभाव होंगे, मंगल उनकी जन्मपत्रिका में किस स्थान पर गोचर करेंगे, साथ ही मंगल की शुभ स्थिति के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए और अशुभ फलों से बचने के लिए आपको क्या उपाय करने चाहिए।  इन सभी चीजों के बारे में आचार्य इंदु प्रकाश से। 

मेष राशि 

मंगल आपके बारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगलके इस गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी। साथ ही आपको शत्रुओं से सावधान रहने की जरूरत है। आपका इस दौरान कुछ गुस्सा भी आ सकता है। हालांकि आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। यहां ये भी बता दूं कि किसी की जन्मपत्रिका के पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल हो तो जातक अस्थायी रूप से मांगलिक कहलाता है। अतः मेष राशि वालों को मंगल का यह गोचर के लिये अस्थायी रूप से  मांगलिक दर्शायेगा और अगर आप विवाहित हैं, तो आपको खास ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर ऐसा है तो ठीक अन्यथा सतर्क होकर इस गोचर के उपाय आपको जरूर करना चाहिए। अत: मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए खाकी रंग की टोपी या पगड़ी से अपना सिर ढक्कर रखें। 

राशिफल 18 जून: सिंह राशि की महिलाओं को मिलेगी कोई खुशखबरी, जानें बाकी राशियों का हाल

वृष राशि
मंगल आपके ग्यारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आध्यात्मिक विचारों के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी। आप न्याय के प्रति अपनी आवाज उठायेंगे। साथ ही आपके माता-पिता को आर्थिक रूप से लाभ होगा। आपकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी। पशुपालन के काम से जुड़े लोगों और व्यापारी वर्ग को अधिक लाभ मिलेगा। अत: अपनी चीज़ों में लाभ की स्थिति सुनिश्चित करने के लिये तिल के लड्डू बनाकर मंदिर में दान करें। अगर लड्डू बनाना संभव न हो तो केवल तिल का दान करें। 

मिथुन राशि

मिथुन राशि

मिथुन राशि 
मंगल आपके दसवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपके परिवार में धन की बढ़ोतरी होगी। साथ ही आप अपनी मेहनत के बल पर पैसा कमायेंगे। इस दौरान आपको संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। आपकी घर-गृहस्थी बेहतर होगी। आपका स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। भले ही इस दौरान आपके पास नकदी कम होगी, परन्तु अचल सम्पत्ति में इजाफा हो सकता है। सरकारी कामों में भी लाभ की स्थिति बन रही है।  करियर में आपको सफलता मिलेगी। साथ ही आपके पिता की भी उन्नति होगी। अत: मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये  चूल्हे पर दूध उबालते समय ध्यान रखें कि दूध उबलकर बर्तन से बाहर न गिरे।

वास्तु शास्त्र: मंदिर में कभी न रखें इस तरह की मूर्तियां, माना जाता है अशुभ

कर्क राशि 
मंगल आपके नवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपके भाग्योदय में थोड़ी रुकावटें आयेगी। इस दौरान भगवान के प्रति आपका ध्यान थोड़ा कम ही रहेगा। साथ ही माता-पिता आपकी किसी बात से दुःखी हो सकते हैं। आपको हर तरह के सुख-साधन पाने के लिये थोड़ी अधिक मेहनत करनी होगी। अत: मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये और अशुभ फलों से बचने के लिये बड़े भाई या बड़े भाई जैसे लोगों का सम्मान करें। 

सिंह राशि

सिंह राशि

सिंह राशि 
मंगल आपके आठवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपकी सेहत में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। अत: आपको अपनी सेहत का विशेष ख्याल रखना चाहिए। आपके धन की वृद्धि होने में कुछ परेशानी आ सकती है। आपको धन पाने के लिए कोशिशें करनी पड़ेगी। जीवन में उतनी खुशहाली नहीं मिल पायेगी, जितनी आपको आशा है। इसके अलावा आपको बता दूं कि - जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल के गोचर से जातक अस्थायी रूप से मांगलिक कहलाता है, यानी सिंह राशि वालों आपके आठवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आप अस्थायी रूप से मांगलिक कहलायेंगे। ऐसे में अगर आप विवाहित हैं, तो आपको इस बात पर विशेष ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर जा रहा है। अगर हां... तो ठीक है, अन्यथा मंगल के इस गोचर के उपाय आपको जरूर करने चाहिए। तो मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये और अशुभ फलों से बचने के लिये किसी जरूरतमंद को खाना खिलाएं।

कन्या राशि
मंगल आपके सातवें स्थान पर गोचर करेंगे। इससे आपको जीवन में आपको हर प्रकार का सुख मिलेगा। यहां एक बार फिर से बता दूं कि  यह गोचर आपको  अस्थायी रूप से मांगलिक बना देगा, ऐसे में अगर आप विवाहित हैं, तो आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां तो ठीक है, अन्यथा मंगल के इस गोचर के उपाय आपको जरूर करने चाहिए। तो मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये और अशुभ फलों से बचने के लिये अपनी बुआ या बहन को लाल रंग के कपड़े गिफ्ट करें और उनका आशीर्वाद लें।

तुला राशि

तुला राशि

तुला राशि
मंगल आपके छठे स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। इस दौरान आपको अपने शत्रुओं से बचकर रहना चाहिए। आपको संतान सुख पाने में भी थोड़ी दिक्कतें आ सकती हैं और अगर आपकी पहले से संतान है, तो उसको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। अत: अपने आर्थिक पक्ष को मजबूत करने के लिए और सभी समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए किसी कन्या को कुछ गिफ्ट करें और उसका आशीर्वाद लें। इससे आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा और आपकी समस्याएं भी कम होगी।

वृश्चिक राशि
मंगल आपके पांचवें स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपको मेहनत के बल पर विद्या का लाभ मिलेगा। संतान से आपके रिश्ते बेहतर होंगे। आपके करियर को एक बेहतर दिशा मिलेगी। आपको गुरजनों का पूरा सहयोग मिलेगा और पढ़ाई-लिखाई में आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे। आपका विवेक बना रहेगा। अत: मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये  रात को सोते समय अपने सिरहाने पर पानी रखकर सोएं और अगले दिन उस पानी को किसी पेड़-पौधे की जड़ में डाल दें। इससे आपके सारे काम अपने आप बनते जायेंगे।

धनु राशि

धनु राशि

धनु राशि 
मंगल आपके चौथे स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर से आपको भूमि-भवन और वाहन का सुख मिलेगा। साथ ही माता से भी पूरा-पूरा सहयोग प्राप्त होगा, लेकिन यहां आपको एक बात जरूर बता दूं कि जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल का गोचर जातक को अस्थायी रूप से मांगलिक बनाता है। अतः धनु राशि वालों चौथे स्थान पर मंगल का यह गोचर आपको के लिये अस्थायी रूप से मांगलिक का प्रभाव देगा। ऐसे में अगर आप शादी-शुदा हैं, तो आपको इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि क्या आपके जीवनसाथी की कुंडली में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां...... तो ठीक है, अन्यथा सतर्क होकर आपको मंगल के इस गोचर के उपाय जरूर करने चाहिए। तो मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये दूध में थोड़ा-सा मीठा डालकर बरगद के पेड़ की जड़ में डालें और दूध डालने से जो मिट्टी गिली हो, उससे अपने माथे पर तिलक लगाएं। इससे आपको शुभ फलों की प्राप्ति जरूर होगी।

मकर राशि 
मंगल आपके तीसरे स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपको अपने जीवन में संघर्ष करना पड़ सकता है। आपको अपने काम पूरे करवाने के लिये थोड़ी परेशानी हो सकती है। भाई-बहनों से मदद पाने में भी थोड़ी देर हो सकती है। इस दौरन आप अपनी बात को दूसरों के सामने अच्छे से नहीं रख पायेंगे। आपके स्वास्थ्य में भी कुछ उतार-चढ़ाव हो सकते हैं। आपके ऊपर कर्ज का बोझ बना रहेगा। अत: मंगल के अशुभ फलों से बचने के लिये और शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये एक चॉकलेटी रंग का कपड़ा लेकर किसी नाई, दर्जी या अपने बड़े भाई को गिफ्ट कर दें। इससे आपको अशुभ फलों से छुटकारा मिलेगा।

कुंभ राशि

कुंभ राशि

कुंभ राशि 
मंगल आपके दूसरे स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल के इस गोचर के प्रभाव से आपको आर्थिक रूप से लाभ मिलेगा। ससुराल पक्ष से भी धन लाभ होने के संकेत हैं। साथ ही आपके पास अन्न की कभी कमी नहीं होगी। बड़े भाईयों से आपका प्रेम भाव बना रहेगा। परिवार के बाकी सदस्यों के साथ भी अच्छा तालमेल रहेगा। तो मंगल के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये धार्मिक कार्यों में अपना सहयोग दें। साथ ही भाईयों की भी हर संभव मदद करें। इससे आपकी आर्थिक उन्नति बनी रहेगी।

मीन राशि
मंगल आपके पहले स्थान पर गोचर करेंगे। मंगल का यह गोचर आपके पहले स्थान, यानी लग्न स्थान पर होगा। मंगल के इस गोचर से आपको भरपूर यश-सम्मान मिलेगा। आपको धन लाभ भी होगा। साथ ही आपके प्रेम-संबंध मजबूत होंगे और आपकी संतान को न्यायालय संबंधी कार्यों से लाभ मिलेगा। इसके अलावा आपको बता दूं कि जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल का गोचर जातक को अस्थायी रूप से मांगलिक बना देता है। अतः आपके पहले स्थान पर मंगल का यह गोचर के लिये आपको अस्थायी रूप से मांगलिक बना देगा। ऐसे में अगर आप विवाहित हैं, तो आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां  तो ठीक है, वरन् सतर्क होकर आपको इस गोचर के उपाय जरूर करने चाहिए। तो मंगल के अशुभ फलों से बचने के लिये और शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये मंदिर में मसूर की दाल से बनी कोई चीज़ दान करें या केवल मसूर की दाल दान करें। इससे पके भाग्य में वृद्धि होगी और आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी। 



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/2UVrNVI
via IFTTT

Post a comment

0 Comments