आज व्यतीपात, त्रिपुष्कर योग के साथ खास नक्षत्र का संयोग, शुभ फल के लिए सूर्य देव की करें राशिनुसार ऐसे करें पूजा

शनिवार को सूर्य़ देव संबंधी करें ये खास उपाय Image Source : INSTAGRAM/BHAKTIYOGASHACK

आज आषाढ़ शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि और शनिवार का दिन है। सप्तमी तिथि आज देर रात 2 बजकर 54 मिनट तक रहेगी। उसके बाद अष्टमी तिथि लग जायेगी। आज विवस्वत सप्तमी है| आज के दिन मध्याहन के समय यानि दोपहर के समय सूर्यदेव की पूजा-अर्चना करने का विधान है। आज के दिन मध्याहन के समय सूर्य भगवान की पूजा करने से आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी होंगी। सूर्यदेव की यह पूजा मनुष्य की आयु और आरोग्य की वृद्धि कराने वाली, धन-धान्य में वृद्धि कराने वाली, पशु, भूमि, पुत्र, मित्र और पत्नी का सहयोग प्रदान करने वाली, तेज, यश, कान्ति, विद्या और भाग्य देने वाली है। लिहाजा आज के दिन मध्याह्न के समय भगवान सूर्यदेव की पूजा अवश्य करनी चाहिए। 

आज त्रिपुष्कर योग बन रहा है। त्रिपुष्कर योग आज सुबह 10 बजकर 11 मिनट से लेकर देर रात 2 बजकर 54 मिनट तक रहेगा। इस योग में विषेश बहुमूल्य वस्तुओं की खरीदारी करना अच्छा रहता है। त्रिपुष्कर योग में खरीदी गयी वस्तु इस योग के नाम अनुसार ही भविष्य में तीन गुना हो जाता है। साथ ही इस दौरान किये गए मेहनत यानि कोशिशों का फल भी हमें तीन गुना होकर प्राप्त होते है। 

आज सुबह 10 बजकर 11 मिनटतक पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र रहेगा। उसके बाद उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र शुरू हो जायेगा। सत्ताईस नक्षत्रों में से पूर्वाफाल्गुनी ग्यारहवां नक्षत्र है। इस नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह चारपाई की आगे वाली दो टांगों को माना जाता है, यानि जिस तरफ सिरहाना होता है। इस नक्षत्र की राशि सिंह है, जबकि इसके स्वामी शुक्राचार्य हैं। साथ ही ढाक, जिसे पलाश भी कहते हैं, उसके साथ पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र का संबंध बताया गया है। लिहाजा आज के दिन पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र में जन्में लोगों को ढाक के पेड़ की उपासना करना चाहिए और हाथ जोड़कर प्रार्थना करना चाहिए। आज के दिन ऐसा करने से आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी।  इसके अलावा उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र कल की सुबह 8 बजकर 46 मिनट तक रहेगा। नक्षत्रों की श्रेणी में उत्तराफाल्गुनी बारहवां नक्षत्र है। इस नक्षत्र के स्वामी स्वयं सूर्यदेव हैं और आज विवस्वत सप्तमी के दिन सूर्य उपसना भी किया जायेगा। यानि की इस दौरान सूर्यदेव की उपासना व्यक्ति को कई गुना शुभ फल देने वाली है। 

आज के दिन विवस्वत सप्तमी, व्यतीपात योग, त्रिपुष्कर योग, पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र और उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र के संयोग में सूर्यदेव की पूजा करने से कैसे आपके जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति होगी। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से। 

मेष राशि

अगर आप लंबी आयु की प्राप्ति करना चाहते हैं, अपने आपको आरोग्य रखना चाहते हैं तो आज के दिन आपको सूर्यदेव के सामने भूमि पर बैठना चाहिए और भगवान की गन्ध आदि से पूजा करनी चाहिए। साथ ही अपनी लंबी उम्र के लिये भगवान से प्रार्थना करनी चाहिए। आज के दिन ये उपाय करने से आपको लंबी आयु की प्राप्ति होगी, आपको आरोग्य प्राप्त होगा। 

 वृष राशि
अगर आप पढ़ाई-लिखाई में कुछ कमजोर हैं और अपनी विद्या की शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो आज के दिन आपको साफ कपड़े पहनकर दोपहर के समय सूर्यदेव के मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- 
'ऊँ घृणिः सूर्याय नमः।'
आज के दिन आपको सूर्यदेव के इस मंत्र का 31 बार जाप करना चाहिए। आज के दिन इस मंत्र का जाप करने से आपकी विद्या की शक्ति बढ़ेगी। आप पढ़ाई-लिखाई में मजबूत होंगे। 

मिथुन राशि
अगर आप अपनी संतान के भविष्य को लेकर, उसकी एजुकेशन को लेकर परेशान रहते हैं तो उस परेशानी से छुटकारा पाने के लिये आज के दिन आपको हाथ में लाल पुष्प लेकर सूर्यदेव को अर्पित करने चाहिए। इसके बाद सूर्यदेव के मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- 'ऊँ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्याय श्रीं नमः।' आज के दिन आपको इस मंत्र का 11 बार जाप करना चाहिए। आज के दिन इस मंत्र का जाप करने से संतान के भविष्य को लेकर आपको जो भी चिंता, परेशानी है, उससे आपको जल्द ही छुटकारा मिलेगा। 

कर्क राशि
अगर आपके दाम्पत्य संबंधों की ऊष्मा कुछ कम हो गई है और आप उसे बरकरार रखना चाहते हैं तो दाम्पत्य संबंधों की ऊष्मा को बरकरार रखने के लिये आज के दिन आपको मीठे चावल बनाने चाहिए। बनाने के बाद चावलों को एक बर्तन में डालकर, ढक्कर कुछ देर के लिये सूर्यदेव के प्रकाश में रखना चाहिए। उसके बाद उन्हें किसी मन्दिर में या किसी पुजारी को दान देना चाहिए।  आज के दिन ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों की ऊष्मा बरकरार रहेगी। 

सिंह राशि
अगर आप अपने मित्रों के साथ अपने संबंधों को मजबूत करना चाहते हैं तो आज के दिन आपको एक शंख में जल लेना चाहिए। साथ ही उसमें थोड़ी-सी रोली और अक्षत   डालने चाहिए। अब इस जल से आप सूर्य भगवान को अर्घ्य दीजिये। आज के दिन ऐसा करने से मित्रों के साथ आपके संबंधों में मजबूती आयेगी। 

कन्या राशि
अगर आप अपने घर-परिवार की समृद्धि में बढ़ोतरी करना चाहते हैं तो आज के दिन आपको एक सफेद रंग का साफ कपड़ा लेना चाहिए और एक मुट्ठी चावल लेने चाहिए। अब उन चावलों को उस सफेद रंग के कपड़े में बांधकर पोटली बना लें और दोपहर के समय सूर्यदेव की रोशनी में उस पोटली को रख दें। इस प्रकार 20 मिनट के लिये उस पोटली को सूर्यदेव की रोशनी में ही रखा रहने दें। 20 मिनट बाद उसे वहां से उठा लें और अपने पास संभालकर किसी तिजोरी आदि में रख लें। आज के दिन ऐसा करने से आपके घर-परिवार की समृद्धि में बढ़ोतरी जरूर होगी। 

तुला राशि
अगर आपका स्वास्थ्य कुछ दिनों से ठीक नहीं चल रहा है तो अपना स्वास्थ्य फिर से बेहतर करने के लिये आज के दिन आपको दोपहर के समय पूरे 15 मिनट सूरज की रोशनी में बिताने चाहिए। साथ ही अपने घर के खिड़की और दरवाजे भी खोलकर रखने चाहिए। आज के दिन सूरज की रोशनी में कुछ समय बिताने से आपका स्वास्थ्य जल्द ही फिर से बेहतर होने लगेगा। 
 
वृश्चिक राशि
अगर आप अपने जीवन में कभी भी कोई दुःख, परेशानी नहीं देखना चाहते हैं  और साथ ही चाहते हैं कि जीवन में जो परेशानियां फिलहाल चल रही हैं, वो भी जल्द ही दूर हो जायें, तो इसके लिये आज के दिन आपको गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए। गायत्री मंत्र इस प्रकार है-
'ॐ भूर्भुव स्वः तत् सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् ॥' आज के दिन आपको गायत्री मंत्र का 11 बार जाप करना चाहिए। आज के दिन गायत्री मंत्र का जाप करने से आपके जीवन में कभी कोई दुःख या परेशानी नहीं आयेगी। 

धनु राशि

धनु राशि

धनु राशि
अगर आप अपने जीवन में सब कुछ अच्छा-अच्छा बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको दोपहर के समय किसी कच्ची मिट्टी वाली जगह पर जाना चाहिए। अगर घर में ही कच्ची जगह है तो बहुत ही अच्छा है। अब वहां खड़े होकर सूर्यदेव की ओर मुख करके सूर्यदेव को अर्घ्य दें। इसके बाद जल नीचे मिट्टी में गिरने से जो मिट्टी गिली हो, उससे मिट्टी से अपनी नाभि पर टीका लगाएं। आज के दिन ऐसा करने से आपके जीवन में सब कुछ अच्छा-अच्छा बना रहेगा।

कुंभ राशि
अगर आपको लगता है कि दूसरों के बीच आपके नाम की चमक कुछ फीकी पड़ गई है, आपका तेज कुछ कम हो गया है तो दूसरों के बीच अपने नाम की चमक को बढ़ाने के लिये और अपना तेज कायम करने के लिये आज के दिन आपको शारदातिलक में दिये भगवान सूर्यदेव के दस अक्षरों के मंत्र का जाप करना चाहिए। वो मंत्र भी बता देता हूं-
'ऊँ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्याय श्रीं।' आज के दिन आपको सूर्यदेव के इस मंत्र का 21 बार जाप करना चाहिए।  आज के दिन इस मंत्र का जाप करने से दूसरों के बीच आपके नाम की चमक बढ़ेगी और आपका तेज कायम होगा। 

मीन राशि
अपनी किस्मत का, अपने भाग्य का पूर्ण रूप से साथ नहीं मिल पा रहा है तो अपने कामों में अपनी किस्मत का, अपने भाग्य का पूरा साथ पाने के लिये आज के दिन आपको दोपहर के समय एक थाली में गंध, पुष्प और प्रसाद के रूप में गुड़ रखना चाहिए। अब सबसे पहले भगवान को पुष्प अर्पित करें, फिर गंध जलाएं। इसके बाद गुड़ का भोग लगाएं और भगवान से अपने भाग्य का साथ पाने के लिये प्रार्थना करें। प्रार्थना करने के बाद बचे हुए गुड़ के प्रसाद को स्वयं खा लें।  आज के दिन ऐसा करने से आपको अपने कामों में अपने भाग्य का, अपनी किस्मत का पूरा सहयोग मिलेगा। 



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/3g3WJLG
via IFTTT

Post a comment

0 Comments