कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में पढ़ाई से दूर हो रहे थे बच्चे, 16 साल की छात्रा ने पेड़ के नीचे स्कूल खोला, 40 बच्चों को शिक्षा देने की खातिर पढ़ाई का खर्च भी खुद ही उठाती हैं

इक्वाडोर की 16 साल की हाई स्कूल छात्रा डेनिसी तोआला इन दिनों चर्चा में हैं। इसकीवजह है तोआला द्वारा शुरू किया गया अस्थायी स्कूल।

इसमें करीब 40 बच्चे रोजाना पढ़ने आते हैं। दुनिया के बाकी देशों की तरह लॉकडाउन के कारण इक्वाडोर के स्कूल भी बंद हो गए थे।

बाद में ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हुईपर गुआक्विल के गरीबी इलाकों में रहने वाले सैकड़ों बच्चों के पास मोबाइल और इंटरनेट की सुविधा नहीं है।

ये सभी बच्चे पढ़ाई से दूर हो रहे थे। इस समस्या के बारे में पता चलते ही तोआला ने बच्चों की मदद का फैसला किया।

तोआला ने घर के पास ही पेड़ के नीचे अस्थायी स्कूल शुरू कर दिया। बच्चों को दिया गया होमवर्क डेनिसी स्कूल की साइट्स पर देख लेती है। इसके बाद क्लास में बच्चों को वही पढ़ाती है।

पूरा खर्च डेनिसी ही उठाती है। गुआक्विल सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित है, ऐसे में डेनिसी की पहल की तारीफ हो रही है।

देश में 73 हजार कोरोना मरीज हैं, इनमें 24 हजार तो गुआक्विल में ही हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Children were getting away from studies in Corona affected areas, 16 year old student opened school under tree, giving education to 40 children


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ZIzils
via IFTTT

Post a comment

0 Comments