साढ़े साती और ढैय्या से निजात पाने के लिए शनिवार को करें ये खास उपाय, मां लक्ष्मी रहेंगी हमेशा आपके घर

शनिवार को .ये उपाय करना होगा शुभ Image Source : INSTAGRAM/PANCHMUKHI_HANUMAN

सावन माह का सोमवार का बहुत अधिक महत्व है। इसी तरह शनिवार के दिन पूजन का विशेष फल मिलता है। माना जाता है कि शनिवार के दिन पूजा करने से शनिदेव की कृपा आप पर बनी रहती हैं। इसके साथ ही साढ़े साती और इससे संबंधी दोषों का निवारण हो जाता है। 

भगवान शनि को न्याय का देवता माना जाता है। कर्णफल दाता शनि सभी को कर्मों के हिसाब से फल देते है। वहीं अगर उनकी पूजा विधि विधान से की जाए तो वह बहुत जलद प्रसन्न भी हो जाते हैं। अगर आपकी कुंडली में शनि अशुभ स्थिति में तो आपका भाग्य आपका साथ नहीं देगा। इसके लिए आपको भगवान शनि को प्रसन्न करना होगा। शनिवार का दिन इसके लिए खास माना जाता है।  जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से कौन से उपाय करना होगा शुभ।

शनि प्रदोष व्रत: इस शुभ मुहूर्त में करें भगवान शिव की आराधना, साथ ही जानिए पूजा विधि और व्रत कथा

शनिवार के दिन करें ये खास उपाय

  • शनि के बुरे प्रभाव को दूर करने के लिए काली चीजें जैसे काले चने, काले तिल, उड़द की दाल, काले कपड़े आदि का दान किसी गरीब और जरूरतमंद व्यक्ति को करें। इसके साथ ही शनि देव के निमित्त हर शनिवार को विशेष पूजन करें।
  • आज के दिन आप पीपल की जड़ में सरसों के तेल का दीपक जलाइये। वहीं जो लोग अपनी संतान के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं, वो आज के दिन एक पत्थर लेकर, उस पर काला रंग करके पीपल के पेड़ के नीचे रखकर आयें। फिर उस पर सरसों का तेल अर्पित करें और हाथ जोड़कर प्रणाम करके शनिदेव के 108 नामों का स्मरण करें। आज के दिन ये खास उपाय करने से संतान के स्वास्थ्य को लेकर आपकी चिंता दूर होगी।
  • अगर आप ऑफिस में अपने सहयोगियों का साथ बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन शनि मंदिर में सरसों का तेल दान करें। साथ ही शनिदेव के मंत्र का 21 बार जप करें। मंत्र है -  'शं ऊँ शं नमः आज के दिन ऐसा करने से ऑफिस में आपके सहयोगियों का साथ बना रहेगा। 
  • शनिवार को उन्नीस हाथ लंबा काला धागा लेकर उसकी माला बनाएं। अब इस माला को शनिदेव पर चढ़ाएं और कुछ देर बाद इस काले धागे की इस माला को गले में धारण करें। अगर आप चाहें तो इस दाहिने हाथ में भी बांध सकते हैं। इस प्रयोग से भी शनि का प्रकोप कम हो सकता है।

Sawan Shivratri 2020: कब है सावन की शिवरात्रि, साथ ही जानिए महत्व और शुभ मुहूर्त

  • अगर आप संतान प्राप्ति की चाह रखते हैं, तो आज के दिन एक कांसे की कटोरी में सरसों का तेल लेकर, उसमें अपना चेहरा देखकर शनि का दान लेने वाले व्यक्ति को कटोरी सहित दान कर दें। अगर आप कांसे की कटोरी न ले सकें, तो स्टील की कटोरी में डालकर दे दें।  आज के दिन ऐसा करने से आपकी संतान प्राप्ति की चाह जरूर पूरी होगी। 
  • अगर आप अपने सारे कष्ट को दूर करके एक खुशहाल जीवन जीना चाहते हैं, तो आज के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। साथ ही शनि के मंत्र का 21 बार जप करें। मंत्र है -  'ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।' आज के दिन ऐसा करने से आपके जीवन के सारे कष्ट दूर होंगे और आपका जीवन खुशहाल होगा। 
  • शनि के बुरे प्रभाव को दूर करने के लिए काली चीजें जैसे काले चने, काले तिल, उड़द की दाल, काले कपड़े आदि का दान किसी गरीब और जरूरतमंद व्यक्ति को करें। इसके साथ ही शनि देव के निमित्त हर शनिवार को विशेष पूजन करें।
  • अगर आप अपनी सभी इच्छाओं को पूरा करना चाहते हैं, तो आज के दिन कौए को रोटी खिलाएं। साथ ही शनिदेव के मंत्र का 11 बार जप करें। मंत्र है - 'शं ह्रीं शं शनैश्चराय नमः।' आज के दिन ऐसा करने से आपकी सभी इच्छाएं पूरी होगी। 
  • मानसिक विकारों से छुटकारा पाने के लिए प्रत्येक शनिवार के दिन गुड़ और नारियल के तेल में कपूर मिलाकर पीपल के पेड़ के नीचे रख आयें। मानसिक रूप से आपको शांति मिलेगी। 
  • अगर आपकी कुंडली में शनि दोष है तो शनिवार के दिन तेल दान करने से इस समस्या से निजात मिल जाता है। इसके लिए एक कटोरी में सरसों का तेल लें और इसमें अपना चेहरा देखकर किसी को दान में तेल दे दे। इससे शनि दोष समाप्त हो जाएगा। इसके साथ ही शनि के साढ़े साती में भी कारगर साबित होगा।

अन्य खबरों के लिए करें क्लिक

सावन शिवरात्रि 2020: भोलेनाथ की पूजा करते समय रखें इन बातों का विशेष ध्यान

वास्तु टिप्स: इस दिशा में घर पर रखें पीले रंग की चीजें, पेट संबंधी तकलीफों से मिलेगा छुटकारा

मूर्ख व्यक्ति इस अनमोल चीज का मोल कभी नहीं समझ पाता, फंस गए इसमें तो हो जाएगा बंटाधार

Sawan Shivratri 2020: कब है सावन की शिवरात्रि, साथ ही जानिए महत्व और शुभ मुहूर्त

गीता के इन 5 अनमोल वचन में छिपा हैं सफलता की कुंजी का राज, रहेंगे हमेशा खुशहाल



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/32rn8iJ
via IFTTT

Post a comment

0 Comments