रोम में लॉकडाउन की वजह से शादियों पर लगे बैन का ब्राइड्स ने वेडिंग ड्रेस पहनकर किया विरोध, साइन बोर्ड पर लिखकर बताई मन की बात

कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से रोम में शादियों पर प्रतिबंध लगा है। इससे नाराज दुल्हनों ने व्हाइट वेडिंग ड्रेस और व्हाइट फेस मास्क पहनकर जुलूस निकाला।

उन्होंने रोम की पार्लियामेंट्री बिल्डिंग के सामने लॉकडाउन की वजह से अन्य बिजनेस जैसे कैटरिंग और म्युजिशियन को होने वाले नुकसानको भी अपने प्रदर्शन में व्यक्त किया। इस इवेंट को एक इटेलियन वेडिंग ऐसोसिएशन ने ऑर्गेनाइज किया।

हालांकि इन दिनों रोम के चर्च में शादी के अलावा अन्य धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है। चेहरे पर फेस मास्क और हाथों में ग्लव्स पहनने के बाद ही यहां जा सकते हैं। चर्च के गेट पर ही सेनिटाइजर रखा हुआ है। यहां तक कि पूरे चर्च को भी सेनिटाइज किया जा रहा है।

जो ब्राइड्स इस प्रदर्शन में शामिल हुईं, उन्होंने अपने हाथ में कुछ साइन बोर्ड ले रखे थे। उस पर लिखा था- बिना प्रतिबंध के शादी होने दो, आप हमारी शादी तोड़ रहे हो, शादी के लिए चर्च के दरवाजे बंद क्योंहैं।

इन लड़कियों ने व्हाइट वेडिंग गाउन के अलावा व्हाइट छतरी भी अपने साथ ले रखी थीं जो फोटाे शूट के दौरान दिखाई दे रही हैं। इन ब्राइड्स नेपार्लियामेंट्री बिल्डिंग के आसपास बनी बल्डिंग के बाहर भी शादियों पर लगे बैन के खिलाफ आवाज उठाई।

जिस फाउंटेन के आसपास ब्राइड्स ने जुलूस निकाला,उसकी लंबाई 26 मीटर और चौड़ाई 49 मीटर है। यह शहर का सबसे बड़ा और दुनिया का सबसे मशहूर फाउंटेन है। इसे देखने हर साल बड़ी संख्या में पर्यटक यहां आते हैं। यहां हर घंटे लगभग 1000 लोगों को विजिट करते हुए देखा जाता है।

फोटोशूट के दौरान ये ब्राइड्स अपने हाथ में छतरियां उछालती हुई दिख रही हैं। इनके चेहरे पर मुस्कान है। उन्होंने अपने बैनर जमीन पर रख दिए हैं। इन ब्राइड्स कीवेडिंग ड्रेस भी तारीफ के काबिल है।

रोम की रहने वाली इन ब्राइड्स ने अपने गुस्से को शब्दों के माध्यम सेबैनर पर लिखकर दर्शाया है। वे चाहती हैं कि लॉकडाउन जल्दी खुले ताकि उनके शादी के अरमान जल्दी पूरे हो सकें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Ban on weddings due to lockdown in Rome protested against brides wearing wedding dress, writing on sign board


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3edHMoO
via IFTTT

Post a comment

0 Comments