शनि प्रदोष व्रत: भगवान शिव दिलाएंगे शनि के दोषों से मुक्ति, जरूर करें ये अचूक उपाय

शनिदेव के उपाय Image Source : INSTAGRAM/HEALINGFORSOUL

श्रावण कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि और शनिवार का दिन है। त्रयोदशी तिथि रात 12 बजकर 42 तक रहेगी  पंचांग के अनुसार प्रत्येक महीने में दो पक्ष होते हैं- एक कृष्ण पक्ष और दूसरा शुक्ल पक्ष। इन दोनों ही पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत किया जाता है और प्रदोष व्रत में भी प्रदोष काल का महत्व होता है। प्रदोष काल उस समय को कहा जाता है, जब दिन छिपने लगता है, यानि सूर्यास्त के ठीक बाद वाले समय और रात्रि के प्रथम प्रहर को प्रदोष काल कहा जाता है। त्रयोदशी के दिन प्रदोष काल के समय भगवान शंकर की पूजा का विधान है। भविष्य पुराण के अनुसार त्रयोदशी की रात के पहले प्रहर में जो व्यक्ति किसी भेंट के साथ शिव प्रतिमा के दर्शन करता है, उसे जीवन में सुख ही सुख मिलता है। लिहाजा आज के दिन शिव प्रतिमा के दर्शन अवश्य ही करने चाहिए। 

इसके अलावा शनिवार के दिन त्रयोदशी तिथि है और जब शनिवार के दिन त्रयोदशी तिथि पड़ती है, तो वह प्रदोष, शनि प्रदोष कहलाता है। अतः आज के दिन भगवान शंकर की पूजा के साथ ही शनि देव की विशेष रूप से पूजा करनी चाहिए। कहते हैं इस दिन जो व्यक्ति व्रत करता है, वह खोये हुए धन की प्राप्ति करता है, उसे अच्छी संतान की प्राप्ति होती है, कर्ज से छुटकारा मिलता है, नौकरी में उन्नति होती है, मुकदमे में जीत होती है, जीवन में सफलता प्राप्त होती है। 

शनि प्रदोष व्रत: इस शुभ मुहूर्त में करें भगवान शिव की आराधना, साथ ही जानिए पूजा विधि और व्रत कथा

शनिवार की रात 11 बजकर 7 मिनट तक ध्रुव योग रहेगा। इस योग के दौरान किसी भवन या इमारत आदि का निर्माण करने से सफलता मिलती है। साथ ही रात 9 बजकर 23 मिनट से शुरू होकर कल की सूर्योदय तक स्थिर योग रहेगा। स्थिर योग के दौरान किसी भी तरह के स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से छुटकारा पाने के लिये किये गये उपाय बड़े ही कारगर साबित होते हैं। इसके साथ ही रात 9 बजकर 23 मिनट तक मृगशिरा नक्षत्र रहेगा। 

आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार इस दिन पड़ने वाले ध्रुव योग, स्थिर योग और मृगशिरा नक्षत्र में कुछ शुभ उपाय करने से लाभ मिलेगा। जानिए इन उपायों के बारे में।

  • आज के दिन आप पीपल की जड़ में सरसों के तेल का दीपक जलाइये। वहीं जो लोग अपनी संतान के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं, वो आज के दिन एक पत्थर लेकर, उस पर काला रंग करके पीपल के पेड़ के नीचे रखकर आयें। फिर उस पर सरसों का तेल अर्पित करें और हाथ जोड़कर प्रणाम करके शनिदेव के 108 नामों का स्मरण करें। आज के दिन ये खास उपाय करने से संतान के स्वास्थ्य को लेकर आपकी चिंता दूर होगी। 
  • अगर आप आर्थिक रूप से लाभ पाना चाहते हैं, तो आज के दिन नीला पुष्प लेकर पीपल के पेड़ के पास रखकर घर वापस आ जाएं और घर आकर शनिदेव के मंत्र का 108 बार जप करें। मंत्र है-'ऊं शं शनैश्चराय नम:।' आज के दिन ऐसा करने से आपको आर्थिक रूप से लाभ मिलेगा। 

शनि देव

शनि देव

सावन शिवरात्रि 2020: भोलेनाथ की पूजा करते समय रखें इन बातों का विशेष ध्यान

  • आज के दिन आप पीपल के पत्ते पर चमेली के तेल की खुशबू लगाकर शिव मन्दिर में चढ़ाएं। वहीं जो लोग अपने किसी कोर्ट केस को लेकर परेशान हैं, वो आज के दिन शिव मन्दिर में चमेली के तेल की खुशबू वाला पीपल का पत्ता चढ़ाने के बाद शनिदेव के इस मंत्र का 11 बार जाप करे। मंत्र है - 'शं ह्रीं शं शनैश्चराय नमः।' आज के दिन ऐसा करने से कोर्ट केस को लेकर आपकी परेशानी का हल जल्द ही निकलेगा। 
  • अगर आप अपने दाम्पत्य जीवन में खुशहाली बरकरार रखना चाहते हैं, तो आज के दिन काली गाय के माथे पर कुमकुम का तिलक लगाकर, उसे बूंदी का लड्डू खिलाएं। साथ ही उसके दाहिने सींग को छूकर आशीर्वाद लें।  आज के दिन ऐसा करने से आपके दाम्पत्य जीवन में खुशहाली बरकरार रहेगी। 
  • अगर आप अपने सारे कष्ट को दूर करके एक खुशहाल जीवन जीना चाहते हैं, तो आज के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। साथ ही शनि के मंत्र का 21 बार जप करें। मंत्र है -  'ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।' आज के दिन ऐसा करने से आपके जीवन के सारे कष्ट दूर होंगे और आपका जीवन खुशहाल होगा। 
  •  अगर आप संतान प्राप्ति की चाह रखते हैं, तो आज के दिन एक कांसे की कटोरी में सरसों का तेल लेकर, उसमें अपना चेहरा देखकर शनि का दान लेने वाले व्यक्ति को कटोरी सहित दान कर दें। अगर आप कांसे की कटोरी न ले सकें, तो स्टील की कटोरी में डालकर दे दें।  आज के दिन ऐसा करने से आपकी संतान प्राप्ति की चाह जरूर पूरी होगी। 

Hariyali Teej 2020: कब है हरियाली तीज, साथ ही जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और व्रत कथा

  • अगर आप अपनी सभी इच्छाओं को पूरा करना चाहते हैं, तो आज के दिन कौए को रोटी खिलाएं। साथ ही शनिदेव के मंत्र का 11 बार जप करें। मंत्र है - 'शं ह्रीं शं शनैश्चराय नमः।' आज के दिन ऐसा करने से आपकी सभी इच्छाएं पूरी होगी। 
  • अगर आपको हमेशा किसी न किसी चीज़ का भय बना रहता है, जिसके चलते आप तनाव महसूस करते हैं, तो आज के दिन सवा किलो काली उड़द और दो लड्डू मंदिर या किसी धर्मस्थल पर दान करें।  आज के दिन ऐसा करने से आपको किसी भी तरह का भय नहीं रहेगा और आपको तनाव भी महसूस नहीं होगा। 
  • अगर आपका किसी भी काम में मन नहीं लग रहा है, जिसके चलते आपको बिजनेस में भी नुकसान हो रहा है, तो आज के दिन पीपल के पेड़ में जल चढ़ाएं। साथ ही अपने चाचा या ताऊ को काले रंग की शर्ट गिफ्ट करें। आज के दिन ऐसा करने से आपका काम में मन लगने लगेगा और आपके बिजनेस की स्थिति में भी सुधार आयेगा। 
  • अगर आप ऑफिस में अपने सहयोगियों का साथ बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन शनि मंदिर में सरसों का तेल दान करें। साथ ही शनिदेव के मंत्र का 21 बार जप करें। मंत्र है - 
  • 'शं ऊँ शं नमः आज के दिन ऐसा करने से ऑफिस में आपके सहयोगियों का साथ बना रहेगा। 
  • अगर आप अपने वैवाहिक जीवन में कुछ नयापन लाना चाहते हैं, तो आज के दिन आपको शिवलिंग पर 11 फूलों और 11 बेलपत्रों से बनी माला चढ़ानी चाहिए । आज के दिन ऐसा करने से आपके वैवाहिक जीवन में नयापन आयेगा । 
  •  अगर आप भविष्य में अपने करियर के लिये कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं कर पा रहे हैं, तो आज के दिन आपको शिवलिंग पर काले तिल मिले हुए जल का अभिषेक करना चाहिए और अभिषेक करते हुए 'ऊँ' शब्द का उच्चारण करना चाहिए। आज के दिन ऐसा करने से आप भविष्य में अपने करियर को लेकर जल्द ही कोई लक्ष्य निर्धारित कर पायेंगे। 

अन्य खबरों के लिए करें क्लिक

Sawan Shivratri 2020: कब है सावन की शिवरात्रि, साथ ही जानिए महत्व और शुभ मुहूर्त

सावन शिवरात्रि 2020: जानें क्या है शिवलिंग पर जलाभिषेक करने का सही तरीका? साथ ही जानिए शुभ मुहूर्त

वास्तु टिप्स: घर के लिए इस आकृति की खरीदें भूमि, गलत चुनाव बिगाड़ सकता है सारे काम



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/2ZAdKro
via IFTTT

Post a comment

0 Comments