इस साल चर्चा में रहे महिलाओं से जुड़े ये 8 फोटोग्राफी ट्रेंड, आल एजेस वेलकम से लेकर वुमन एम्पावरमेंट ने सारी दुनिया को किया इम्प्रेस

फोटोग्राफी के जरिये महिलाओं के दिल की बात आसानी से समझी जा सकती है। कैमरे से महिलाओं को अलग-अलग रूपों को जानने का प्रयास देश और दुनिया के हजारों फोटोग्राफर्स ने बखूबी किया है।

खुद को हर हाल में साबित करने वाली महिलाओं से जुड़े कुछ मुद्दे इस साल भी ट्रेंड में रहे जिसे इन फोटोज के माध्यम से समझा जा सकता है।

1. नो मेकअप लुक
सदियों से मेकअप का इस्तेमाल महिलाएं अपनी खूबसूरती बढ़ाने के लिए कर रही हैं। अपनी सुंदरता को निखाने का यह सबसे अच्छा माध्यम माना जाता है। लेकिन आज की महिलाओं ने मेकअप करने के बजाय नो मेकअप लुक को पसंद करना सीख लिया है। इसी लुक को फोटोग्राफी में आर्टिस्टिक स्टाइल दी गई है।

2. महिला सशक्तिकरण
फोटोग्राफी में महिलाओं की पॉजिटिव बॉडी इमेज उनके सशक्त होने का संदेश देती है। हर उम्र की महिलाओं ने अपने बेहतर कामों के जरिये समाज और दुनिया को सशक्त बनाया है। फोटोग्राफी के माध्यम से वुमन इम्पावरमेंट को दुनिया भर के फोटोग्राफर्स ने समझाने की कोशिश की है।

3. आल एजेस वेलकम
अगर महिलाओं के लिए न्यू नॉर्मल की बात की जाए तो बढ़ती उम्र को पूरे आत्मविश्वास के साथ लेकर आगे बढ़ना भी उन्होंने सीख लिया है। महिलाओं को सशक्त बनाने में इस ट्रेंड ने खास भूमिका निभाई है। वे समाज में उसी तरह अपनी सक्रियता दिखा रही हैं, जिस तरह आज की पीढ़ी।

4. गर्ल बॉस
ब्रिटेन में हर तीन में से एक आंत्रप्रेन्योर महिला है। इन महिलाओं ने आंत्रप्रेन्योरिशप के कायदे बदलने में खास भूमिका निभाई है। इन्होंने ऑफिस में काम के घंटों को महिलाओं की सुविधा के अनुसार तय किया। इन्हीं की वजह से रिमोट वर्किंग को बढ़ावा मिल रहा है। इसे पॉवरफुल फोटोज के माध्यम ये दिखाया फोटोग्राफरों की पसंद साबित हो रहा है।

फूड विद फैमिली
काम के बढ़ते घंटों के बीच फैमिली टाइम को बढ़ावा देना आज की जरूरत बन गया है। अधिकांश लोग यह मानते हैं कि परिवार को एक साथ बांधे रखने में फूड का अहम रोल है। डिनर के वक्त परिवार के साथ बैठकर खाना खाने से आपस में प्यार बढ़ता है। परिवार को एक साथ बांधे रखने वाले फूड विद फैमिली को फोटोज के माध्यम से बयां किया गया है।

स्टोरीटेलर्स
अगर इस साल की बात की जाए तो महिलाओं के लिहाज से ऐसे कई फोटो लिए गए जो उनके दर्द को बयां करने का काम बखूबी करते हैं। उनकी कहानी को फोटोग्राफी के जरिये बताने के लिए दुनिया भर के फोटोग्राफर ने खूब मेहनत की। आमतौर पर खिंचे जाने वाले पोज को भुलाकर ऐसे पोज पसंद किए गए जो उनकी पूरी कहानी को दिखाते हैं।

मेंटल हेल्थ
इस साल महिलाओं की मानसिक स्थित को सबसे ज्यादा कोरोना ने प्रभावित किया है। आज की महिलाओं के लिए सबसे बड़ा हेल्थ इश्यू मानसिक तनाव ही है। फिर बात चाहे आज के समय में हाउस वाइफ की हो या वर्किंग वुमन की। दुनिया भर के फोटोग्राफर्स ने इस मुददे को अलग-अलग अभियान के जरिये आम लोगों तक पहुंचाया है।

पोर्टेट
लड़कियों के र्पोटेट के माध्यम से उनकी कहानी को बयां करना फोटोग्राफर्स को खूब भाया। महिलाओं के विविध रूपों को पोर्टेट फोटोग्राफी से कभी रंगीन तो कभी ब्लैक एंड व्हाइट फोटोज के जरिये बताया गया। घूंघट में सिमटी महिला के फोटो से लेकर खामोश लड़कियों के पोर्टेट खूब पसंद किए गए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
These 8 photography trends related to women who were in discussion this year, from All Ages Welcome to Woman Empowerment impress the whole world


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3aFaZJm
via IFTTT

Post a comment

0 Comments