Janmashtami 2020: कृष्ण जन्माष्टमी के दिन घर पर जरूर लाएं ये तीन चीजें, पूरी होंगी सारी मनोकामनाएं

Laddu Gopal Image Source : INSTAGRAM/ARTISTIC DENTIST

भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन भगवान विष्णु के आठवें अवतार श्री कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। इस खास दिन को कृष्ण जन्माष्टमी और गोकुलाष्टमी जैसे नामों से भी जाना जाता है। इस दिन लोग व्रत रखकर विधि-विधान से पूजा करके रात 12 बजे भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव मनाते हैं। इस बार कृष्ण जन्माष्टमी 12 अगस्त को है। 

वैसे तो हर साल इस त्योहार को कृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस की वजह से एहतियात के तौर पर यह त्योहार सादगी से मनाया जा रहा है। इस दिन मंदिरों के अलावा लोग अपने घरों में झाकियां भी लगाते हैं। इसके साथ ही कई तरह के पकवान बनाकर लड्डू गोपाल को भोग भी लगाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कृष्ण जन्माष्टमी के दिन तीन चीजों को घर पर लाना बहुत शुभ होता है। ये तीन चीजें वहीं है जो भगवान कृष्ण को बहुत प्रिय हैं। 

Janmashtami 2020: इस बार दो दिन मनेगी जन्माष्टमी, जानिए किस दिन ग्रहस्थ रखेंगे व्रत

बांसुरी

भगवान कृष्ण को बांसुरी बहुत प्रिय है। यहां तक कि श्रीकृष्ण को मुरली मनोहर भी कहा जाता है। मान्यता है कि जिस घर में बांसुरी होती है वहां पर भगवान कृष्ण का वास होता है। इसके साथ ही वहां पर कभी भी धन की कमी नहीं होती।

बाल गोपाल
भगवान श्री कृष्ण का जन्माष्टमी के दिन जन्म हुआ था। इसी वजह से भगवान कृष्ण के लड्डू गोपाल रूप की इस दिन पूजा अर्चना होती है। मान्यता है कि अगर आपके घर में कोई भी बाल गोपाल यानी कि अगर आप संतान प्राप्ति की इच्छा रखते हैं तो इस शुभ दिन पर घर पर बाल गोपाल जरूर लाएं। मान्यता है कि ऐसा करने पर आपकी संतान प्राप्ति की इच्छा पूरी हो जाती है।

घी-मक्खन
भगवान श्री कृष्ण को माखन बहुत पसंद है। इसी वजह से इन्हें माखनचोर भी कहा जाता है। जन्माष्टमी के दिन गाय के दूध से बना घी और मक्खन जरूर लाएं। भगवान कृष्ण को इन दोनों चीजों का भोग लगाने से आपकी सारी समस्याएं दूर होंगी। 

भगवत गीता में एक लोकप्रिय कथन है- “जब भी बुराई का उत्थान और धर्म की हानि होगी, मैं बुराई को खत्म करने और अच्छाई को बचाने के लिए अवतार लूंगा।” जन्माष्टमी का त्यौहार सद्भावना को बढ़ाने और दुर्भावना को दूर करने को प्रोत्साहित करता है। यह दिन एक पवित्र अवसर के रूप में मनाया जाता है जो एकता और विश्वास का पर्व है।



from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/3aeYyDQ
via IFTTT

Post a comment

0 Comments