अरुणाचल प्रदेश के एक कपल ने 16 बीघा जमीन दान कर आदर्श गांव की स्थापना की, यहां रहने की पूरी सुविधा देने के लिए पिछले 3 साल से कर रहे मेहनत

एक मॉडल विलेज की स्थापना करने के लिए गिबी और मिनली टैटो ने अपनी 16 बीघा जमीन दान की है। यह जमीन पश्चिमी सियांग के पास केरांग और कियक गांव में बॉर्डर रोड़ के पास है। इस गांव का नाम कपल के नाम पर मिनली-गिबी या एमजी रखा गया है। यह कपल पिछले तीन साल से आदर्श गांव की स्थापना के लिए प्रयास कर रहा है।

इन दोनों ने मिलकर पहले यहां पक्की सड़क बनवाई। उसके बाद बच्चों के लिए पार्क और खेल का मैदान बनवाया। मिनली टैटो का कहना है कि उन्होंने यहां ड्रैनेज सिस्टम, पशुओं के रहने की पूरी व्यवस्था और नियोजित स्थान पर अनाज रखने का इंतजाम भी किया। इसके अलावा मॉडर्न टॉयलेट और बिजली का पर्याप्त प्रबंध किया ताकि यहां बसने वाले लोगों को हर सुविधा मिल सके। उसके बाद भी यहां कई काम करना बाकी है।

आदर्श गांव बनाने में जी-जान से जुटा है ये कपल।

इस गांव में जल्दी ही ये कपल प्रेयर रूम भी बनवाएंगे। साथ ही गांव वासियों के लिए जंगल की लकड़ी का इंतजाम भी किया जा रहा है। गांववासियों के लिए एक बार सभी जरूरतों के पूरा होने पर गांव का उद्घाटन किया जाएगा।

इस कपल के बारे में जब अरूणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू को जानकारी मिली तो उन्होंने अपने टि्वटर अकाउंट के जरिये इन दोनों के काम की सराहना की। कपल ने 23 सितंबर को गांव के तीसरे स्थापना दिवस के अवसर पर ग्राम समिति के साथ मिलकर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया।

केइंग और कियेक गांव के नौ गरीब बच्चों को कॉपी, पेन, पेंसिल और साइकिल भेंट की। इन दोनों की उदारता की सभी तारीफ कर रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
A couple from Arunachal Pradesh set up Adarsh Village by donating 16 bighas of land, working hard for last 3 years to provide full facility to live here


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3i9sp2E
via IFTTT

Post a comment

0 Comments