कोविड-19 के दौरान देशवासियों के साहस और उम्मीद को बढ़ाने का सराहनीय प्रयास, पाॅपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने लाॅन्च किया ‘हिम्मत है तो जीत है’ कैंपेन

भारत में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़े हैं। आर्थिक मंदी के बावजूद हमारा देश इससे धीरे-धीरे उबरने की कोशिश कर रहा है। इसी बीच पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने देशवासियों के साहस और उम्मीद को बढ़ाने के लिए ‘हिम्मत है तो जीत है’ कैंपेन शुरू किया है। आप इस लिंक पर गीत को देख सकते हैं - https://www.youtube.com/watch?v=AUFsVgp2MuE

इस कैंपेन के अंतर्गत लिखा गया यह गीत इस मुश्किल दौर में चुनौतियों से जूझ रहे आम लोगों की हिम्मत और उम्मीद की कहानियों को बयां करता है। दो महीने तक चलने वाले इस अभियान की शुरुआत एक रोचक और प्रेरणादायक गीत के साथ हुई।

इस गीत के बोल, समाज के हर वर्ग के लोगों को प्रभावित करते हैं। यह गीत लोगों को मुश्किल हालातों में मजबूत बने रहने की प्रेरणा देता है। लोगों का हौसला बनाए रखने और उनमें एकजुटता की भावना को बढ़ाने के लिए पीएफआई ने इस अभियान की शुरुआत की है।

पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया की कार्यकारी निदेशक पूनम मुत्तरेजा

पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया की कार्यकारी निदेशक पूनम मुत्तरेजा कहती हैं, ''सुरक्षित रहने के लिए हमें मास्क पहनने, फिजिकल डिस्टेंसिंग बनाए रखने और हाथ धोते रहने की जरूरत है। इसके साथ ही आगे बढ़ने के लिए हमें हिम्मत और हौसला रखना भी जरूरी है। इस तरह हम अपनी गरिमा बरकरार रखते हुए हम इस मुश्किल दौर से निकल सकेंगे।

पूनम के अनुसार, ''हिम्मत है तो जीत है, हमारे जीवन का प्रतिबिंब है क्योंकि भारत आगे आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार है। हमारा गीत उस संकल्प और एकजुटता को बयां करता है जो इस महामारी के दौरान 1.3 अरब आबादी को एक साथ लाएगा। इसे सुनिए, गाइए और साझा कीजिए। इस कठिन समय में जब हम हर किसी की, खासकर सबसे कमजोर लोगों की मदद करेंगे तभी हम सब मजबूत और सुरक्षित बनेंगे। भारत के लोगों के लिए पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया का मंत्र है , हिम्मत है तो जीत है''।

देशवासियों की हिम्मत बढ़ाने के लिए शुरू किया यह अभियान

इस अभियान को जाने-माने फिल्म और थिएटर निर्देशक फिरोज अब्बास खान ने निर्देशित किया है। इस गीत और कैंपेन को तैयार करने व इसके निर्माण में क्रिएटिव एजेंसी एसटीसीएच इंटीग्रेटेड मार्केटिंग सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड ने पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के साथ हाथ मिलाया है।

एंथेम के अलावा, दो महीने तक चलने वाले कैंपेन ‘हिम्मत है तो जीत है’ में साहस और धैर्य की वास्तविक कहानियों को सेलिब्रेट किया जाएगा। इनमें फ्रंटलाइन वर्कर्स से लेकर कोविड सर्वाइवर्स तक शामिल होंगे।

इस महामारी के शुरुआती दौर में पीएफआई ने इमरजेंसी रिस्क कम्युनिकेशन को अंजाम देने में भारत सरकार के सिटीजन इंगेजमेंट प्लेटफार्म माय गव इंडिया (My Gov India) को सपोर्ट किया था। पीएफआई ने #TogetherAgainstCOVID के तहत मास्क का उपयोग, सुरक्षित रहने के उपाय, कोविड को लेकर मिथक और सोशल डिस्टेसिंग से जुड़ी शैक्षिक सामग्री तैयार की थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
A commendable effort to increase the courage and hope of the countrymen during Kovid-19, the Population Foundation of India launched 'Himmat Hai to Jeet hai' campaign


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35TQisq
via IFTTT

Post a comment

0 Comments