डॉली जे ने अपने कलेक्शन 'गुलनार' में किए दिल जीतने वाले एक्सपेरिमेंट, इसके जरिये वे महिलाओं का खोया हुआ कॉन्फिडेंस वापिस लाना चाहती हैं

हमारे देश में होने वाले काउचर वीक का सेलिब्रेशन कोरोना महामारी भी नहीं रोक पाई। हां इस साल इतना जरूर हुआ है कि इस महामारी का असर देखते हुए भारत में पहले डिजिटल इंडिया काउचर वीक की शुरुआत 18 सितंबर को हुई है। इस डिजिटल काउचर वीक में जिन कलेक्शन को सबसे ज्यादा पसंद किया जा रहा है, उनमें फैशन डिजाइनर डॉली जे का ब्राइडल कलेक्शन भी है।

डॉली जे जैसी टैलेंटेड डिजाइनर के इस कलेक्शन का नाम 'गुलनार' है जो उम्मीद और हौसलों वाली महिला का प्रतिनिधित्व करती है। डॉली कहती हैं ''महामारी के इस दौर में महिलाओं को उम्मीद बनाए रखने और अपना हौसला कायम रखने की जरूरत है''। इसी अहसास को उन्होंने अपने कलेक्शन में दर्शाया है।

उनका कलेक्शन एक ऐसी महिला का प्रतिबिंब है जिसे खुद पर नाज है। वह अपने चेहरे, त्वचा, बॉडी शेप और कलर को हर हाल में पसंद करती है।

डॉली चाहती हैं कि उनके कलेक्शन को देखकर महिलाएं खुद को स्पेशल फील करें। उनका खोया हुआ आत्मविश्वास एक बार फिर वापिस आ जाए।

हमारे देश की जानी-मानी डिजाइनर डॉली के लिए इस काउचर वीक में मॉडल वर्तिका सिंह, देयेना एरेप्पा और सोनाली शर्मा ने ब्राइडल लहंगा और गाउन पहनकर मॉडलिंग की है।

डॉली ने अपने कलेक्शन के लिए जिस शब्द गुलनार का इस्तेमाल किया है, वह एक उर्दू लफ्ज है जिसका मतलब होता है अनार के फूल। उनकी ब्राइडल लाइन में सिल्वर और गोल्ड के धागों से किया गया हैंडवर्क तारीफ के काबिल है। इसे खासतौर से इंडियन वेडिंग का ख्याल रखते हुए डिजाइन किया गया है।

वेस्टर्न ड्रेपिंग के साथ ईवनिंग गाउन पर की गई चिकनकारी इस ड्रेस को डिफरेंट लुक देती है। डॉली ने कुछ खास फैब्रिक जैसे लक्स सिल्क और ऑर्गेंजा के साथ एक्सपेरिमेंट किए हैं।

उन्होंने अपने गाउन को पेस्टल और ज्वेल टोन से खास बनाया है। डॉली के अलावा अन्य फैशन डिजाइनर्स ने भी चिकनकारी के साथ इस काउचर वीक में डिफरेंट एक्सपेरिमेंट किए हैं। इसके साथ बनारसी गोल्डन कलर्ड दुपट्‌टा ब्राइड्स को रॉयल लुक देता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Dolly J in her collection 'Gulnar', a heart-warming experiment for brides, wants women to love themselves


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3kz1w9S
via IFTTT

Post a comment

0 Comments