नौ लड़कियों ने महिषासुर मर्दिनी स्रोत में शब्दों का सुंदर स्वरूप प्रस्तुत किया, इतने कठिन शब्दों का सटिक उच्चारण दिल छू लेने वाला है

वंदे गुरू परंपरा को बनाए रखने में कुलदीप एम पाई ने अपने संगीत और सुंदर कंपोजिशन से खास भूमिका निभाई है। वे एक भारतीय संगीतकार हैं। साथ ही म्युजिक प्रोड्यूसर, कंपोजर, और यू ट्यूबर के तौर पर भी जाने जाते हैं। उनके यू ट्यूब चैनल पर लगभग 1.62 मिलियन मेंबर्स हैं। उन्होंने महिषासुर मर्दिनी स्रोत की सुंदर प्रस्तुति संगीत में महारत हासिल इन नौ लड़कियों को सिखाई।

इन लड़कियों ने कठिन शब्दों का संगीत के माध्यम से जो सटिक उदाहरण प्रस्तुत किया है, वो तारीफ के काबिल है। इसे ट्विटर पर 10 करोड़ व्यूज मिल चूके हैं। यूजर्स इन लड़कियों द्वारा की गई प्रस्तुति को खूब शेयर कर रहे हैं।

जिन लड़कियों ने महिषासुर मर्दिनी स्रोत में शब्दों का सुंदर स्वरूप प्रस्तुत किया उनके नाम अबिरामी, छारूकेसी, ईशा, मृणालिनी, श्रेया, सिंधुजा, सूर्यागायत्री, श्री सम्मोहना, शिवा संकीर्थना हैं। कुलदीप एम पाई इन लड़कियों द्वारा महामारी में मिले सपोर्ट की सराहना करते हैं। कुलदीप की कंपोजिशंस पर सनातन धर्म का गहरा प्रभाव देखने को मिलता है।

वैसे भी नवरात्रि में महिषासुर मर्दिनी स्रोत का विशेष महत्व है। चैत्र नवरात्रि में मां के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है। इसी के साथ इस दौरान मां को मनाने व प्रसन्न करने के लिए महिषासुर मर्दिनी स्रोत का पाठ किया जाता है ताकि जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो सकें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Nine girls presented the beautiful look of the words in the Mahishasura Mardini source based on the Kanakamanjari stanza, the exact pronunciation of such difficult words is heart touching.


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3o8HvtA
via IFTTT

Post a comment

0 Comments