ईयरफोन लगाकर तेज आवाज में म्युजिक सुनने से कानों को नुकसान हो सकता है, इससे इंफेक्शन का खतरा बढ़ता है

ईयरफोन के ज़्यादा इस्तेमाल से आपके कानों को नुक़सान पहुंच सकता है। यदि आप भी इनका अधिक इस्तेमाल करते हैं तो कुछ बातों का ख़्याल रखें।

कभी मोबाइल पर बात तो कभी संगीत सुनने के लिए अक्सर हम ईयरफोन का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इनके अधिक इस्तेमाल से सुनने में समस्या, इन्फेक्शन और कानों में दर्द की शिकायतें आम होने लगी हैं। इनसे बचने के लिए कुछ उपाय कारगर हो सकते हैं।

1. ईयरफोन पर तेज़ आवाज़ में संगीत सुनने से कान के पर्दों को नुक़सान पहुंचता है और सुनने की क्षमता भी कम हो जाती है। ईयरफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं तो गैजेट का वॉल्यूम 40 फ़ीसदी तक ही रखें।

2. यदि ईयरफोन लगाकर घंटों काम करना पड़ता है, तो हर घंटे के बाद 5-10 मिनट के लिए इनको निकलकर कानों को आराम दें।

3. आजकल ईयरफोन कान में अंदर तक जाते हैं, जो कि सही तरह से साफ़ न होने पर संक्रमण का ख़तरा बढ़ा सकते हैं। इसलिए इस्तेमाल करने से पहले ईयरफोन को सैनिटाइज़र से साफ़ करना न भूलें।

4. ऑनलाइन मीटिंग्स में हेडफोन का इस्तेमाल करें। इससे कानों को आराम भी मिलेगा और संक्रमण की आशंका भी नहीं रहेगी।

5. यदि नौकरी ऐसी है कि दफ़्तर के बाद भी फोन पर बात करना ज़रूरी रहता है तो ईयरफोन या मोबाइल फोन को कान पर लगाकर बात करने की अपेक्षा मोबाइल को स्पीकर पर रखकर बात करें।

6. हमेशा अच्छी कंपनी का ईयरफोन ही इस्तेमाल करें। इसके साथ ही सुनिश्चित करें कि ईयरफोन का आकार ऐसा हो कि उन्हें लगाने से कानों में दर्द न हो।

7. यात्रा के दौरान लोग शोर से बचने के लिए ईयरफोन पर तेज़ आवाज़ में गाने सुनने लगते हैं। इससे वो बाहरी शोर से तो बच जाते हैं, लेकिन ईयरफोन के ज़रिए क़रीब के शोर से उन्हें अधिक नुक़सान होता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Hearing music in loud voice with earphones can damage the ear, increasing the risk of infection.


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/33tDCXW
via IFTTT

Post a comment

0 Comments